CG: जंगल सफारी में बन रहे गार्डन मामले में वनमंत्री ने दिए जांच के आदेश

Chhattisgarh Raipur

रायपुर। जंगल सफारी में बन रहे बॉटेनिकल गार्डन में मिट्टी, मुरूम की ढलाई के नाम पर तीन करोड़ से ज्यादा के भ्रष्टाचार के आरोप को वन मंत्री महेश गागड़ा ने संज्ञान में लिया है।

मंत्री गागड़ा ने मंगलवार को पीसीसीएफ आर के सिंह को इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही जांच कमेटी गठित करने के भी निर्देश दिए गए हैं। इस मामले में अब पीसीसीएफ आर के सिंह जल्द ही एक जांच टीम गठित करेंगे। इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उनके खिलाफ निलंबन की कार्यवाही की जाएगी। साथ ही भ्रष्टाचार की राशि की रिकवरी भी की जाएगी।

गौरतलब है कि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के पदाधिकारियों ने 8 जून को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर और निकल गार्डन में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। जंगल सफारी से लगे इस बॉटनिकल गार्डन के कामों में भ्रष्टाचार कर तीन करोड़ से अधिक राशि आहरित करने का आरोप लगाया गया था इस मामले में ईओडब्‍ल्‍यू से भी शिकायत की गई थी। जेसीसी के प्रवक्ता संजीव अग्रवाल ने आरटीआई दस्तावेजों के आधार पर इस भ्रष्टाचार का खुलासा किया था।

बता दें कि वन विभाग नया रायपुर में 136 हेक्टेयर में देश का दूसरा सबसे बड़ा बॉटनिकल गार्डन बनवा रहा है। यहां पर पानी की व्यवस्था के लिए बड़ा तालाब भी खुदवाया जा रहा है। इसके लिए बाउंड्रीवॉल, तालाब निर्माण और नलकूप खनन पर करीब 10 करोड़ रुपए खर्च किया जाना है। बाटनिकल गार्डन जंगल सफारी से लगा हुआ है।



Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.