छत्तीसगढ़ नक्सल ऑपरेशन के चलते MP में अलर्ट, विंध्य का यह क्षेत्र है मूवमेंट का केंद्र

छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश रीवा विंध्य सिंगरौली

सिंगरौली जिले के दो थाने माडा और लंघाड़ोल कुछ साल पहले तक नक्सली मूवमेंट का केंद्र रहे हैं, इन दोनों थानों की सीमाएं छत्तीसगढ़ से लगी हुई हैं

छत्तीसगढ़ में चल रहे हैं नक्सल ऑपरेशन के तहत मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में भी सतर्कता बरती जा रही है. दरअसल सिंगरौली जिले के दो थाने माडा और लंघाड़ोल कुछ साल पहले तक नक्सली मूवमेंट का केंद्र रहे हैं, इन दोनों थानों की सीमाएं छत्तीसगढ़ से लगी हुई हैं, जिसकी वजह से कुछ समय पहले तक नक्सली इन इलाकों में आते थे.

खासतौर से तब जब छत्तीसगढ़ में पुलिस का दबाव ज्यादा होता था तो यह नक्सली सिंगरौली जिले के इन थाना इलाकों के जंगलों में शरण लिया करते थे. कुछ साल पहले से इन इलाकों को नक्सल मुक्त घोषित कर दिया गया है.

नक्सल विरोधी अभियान के तहत रीवा रेंज के आईजी ने सिंगरौली का दौरा किया और बताया कि दोनों थाना इलाकों में ग्रामीणों के साथ जनसंवाद किया गया है और ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी गई हैं. खासतौर से उन समस्याओं को जिसके चलते ग्रामीण नक्सलियों के चुंगल में फंसते हैं और नक्सली मोमेंट को अंजाम देते हैं.

पुलिस ने इलाकों की सर्चिंग भी तेज कर दी है पुलिस के कई बड़े बड़े अधिकारी लगातार छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे इलाकों में सर्चिंग कर रहे हैं. अभी हाल ही में माडा इलाके में संचालित कुछ क्रेशर संचालकों को उनके क्रेशर बम से उड़ाने की धमकी भी दी थी जिसको लेकर भी पुलिस अलर्ट पर है.