छत्तीसगढ़ के शहरों में एक हफ्ते में एक लाख से ज्यादा लोगों को मिला स्मार्ट फोन

छत्तीसगढ़

रायपुर।

  • मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली संचार क्रांति योजना (स्काई) के तहत  छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों में चल रहे मोबाइल तिहार में विगत लगभग एक सप्ताह के दौरान एक लाख से ज्यादा लोगों को 4जी स्मार्ट फोन दिए जा चुके हैं। योजना के तहत इनमें से आज छह अगस्त को एक दिन में 115 वितरण केन्द्रों में 30 हजार लोगों को स्मार्ट फोन का वितरण किया गया। योजना का यह पहला चरण है। इसके अंतर्गत शहरों में 16 अगस्त तक स्मार्ट फोन बांटे जाएंगे।
  • वितरण कार्य तेजी से चल रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में 17 अगस्त से 23 सितम्बर तक मोबाइल तिहार मनाया जाएगा, जहां ज्ञातव्य है कि राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने पिछले माह की 26 तारीख को बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर में आयोजित कार्यक्रम संचार क्रांति योजना का शुभारंभ किया था।
  • मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 30 जुलाई को राजधानी रायपुर के सरदार बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में शहरों के लिए ’मोबाइल तिहार’ की शुरूआत की थी। मुख्यमंत्री रायपुर सहित अब तक दुर्ग, राजनांदगांव, बिलासपुर और कोरबा में आयोजित मोबाइल तिहार में शामिल हो चुके हैं, जहां उन्होंने प्रतीक स्वरूप कई हितग्राहियों को स्मार्ट फोन भेट कर सेल्फी लेना भी सिखाया।
  • छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रमोशन सोसायटी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन ने आज बताया कि राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में 17 अगस्त से 23 सितम्बर तक स्मार्ट फोन वितरण का कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक मोबाईल वितरण केन्द्र में कम से कम 8 काऊंटर बनाये गये हैं।
  • मोबाइल वितरण केन्द्र में हितग्राहियों को बारकोड युक्त पावती दी जा चुकी है। हितग्राही के आने पर उनका ई-केवाईसी कर मोबाईल का वितरण किया जा रहा है। प्रत्येक काऊंटर में हितग्राहियों की पावती के बारकोड और मोबाईल के बारकोड को स्केन कर मिलान किया जा रहा है और हितग्राही को स्थल पर ही मोबाईल का वितरण किया जा रहा है। मोबाइल वितरण केन्द्रों पर हितग्राहियों को मोबाइल एवं एप्स संचालन का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।
  • बारकोड के कारण वितरण में लगने वाला समय कम हो गया है, फलस्वरूप वितरणकर्ताओं के साथ-साथ हितग्राहियों के समय की बचत हो रही है। उन्होंने बताया कि संचार क्रांति योजना शुरू करने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है। अपनी इस योजना के तहत राज्य शासन द्वारा प्रथम चरण में आगामी चार माह में शहरों और गांवों को मिलाकर 37 लाख से ज्यादा लोगों को 4जी स्मार्टफोन का वितरण किया जाएगा। इनमें 32 लाख से अधिक महिलाएं और कॉलेजों के 5 लाख से अधिक विद्यार्थी शामिल हैं।
  • मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश पर राज्य के ऐसे मोबाइल कनेक्टिविटी विहीन गांवों में  कनेक्टिविटी देने के लिए 16 सौ नये मोबाईल टावर लगाने का काम तेजी से चल रहा है। अब तक कुल 556 टावरों की स्थापना की जा चुकी है। ये टॉवर, स्काई योजना के प्रारंभ होने के सिर्फ 3 माह की अवधि में स्थापित किये गये हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत मई 2019 तक राज्य के 20 हजार गांवों में से करीब 15 हजार गांवों तक मोबाइल कनेक्टिविटी प्रदान कर दी जायेगी। स्काई योजना से नागरिक सशक्तिकरण और वित्तीय समावेश को बढ़ावा मिलेगा तथा ई-शासन सेवाओं की प्रदायगी सुनिश्चित होगी। मोबाईल में उपलब्ध एप्प के द्वारा जन्म, मृत्यु, आय, निवास प्रमाण पत्र जैसी सेवाएं हितग्राही प्राप्त कर सकेंगे।
  • उन्होंने बताया कि मोबाइल वितरण से प्रदेश में जेम (जनधन-आधार-मोबाइल) और प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण की व्यवस्था सुदृढ़ होगी। महिलाओं द्वारा संचालित स्व-सहायता समूहों को नए बाजार ढूंढने और वित्तीय रूप से स्वतंत्र बनने में भी मोबाइल के उपयोग से सहायता मिलेगी। यह 4जी स्मार्टफोन युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर खोजने और उद्यमशीलता को बढ़ावा देने में उपयोगी होंगे।
  • मौसम की स्थिति जानने, कृषि उपजों की बाजार दर और फसल केे अधिकतम मूल्य की जानकारी प्राप्त करने में मोबाइल फोन किसानों के लिए काफी उपयोगी होगा। विभिन्न सरकारी सेवाओं के लिए शुल्क का ऑनलाइन भुगतान भी स्मार्ट फ ोन से किया जा सकेगा।