छत्तीसगढ़ : पवित्र रिश्ते को शर्मसार : सगे भतीजे ने अपनी बुआ की अस्मत लूटी फिर पति ने किया ये ..

छत्तीसगढ़

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में रिश्तों को शर्मसार करने देने वाली खबर सामने आई है। पवित्र रिश्ते को शर्मसार करते हुए सगे भतीजे ने अपनी बुआ की अस्मत लूट ली। दुष्कर्म पीड़ित विवाहित महिला न्याय के लिए जब थाने पहुंची तो पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। करीब महीनेभर थाने के चक्कर लगाने के बाद भी पीडि़त महिला को इंसाफ नहीं मिलने से परेशान पति ने खुदकुशी कर ली। पीडि़त महिला ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर पुलिस पर रिश्वत लेकर मामले को रफा-दफा करने का आरोप लगाया है।

दरअसल, यह घटना विधानसभा थाना इलाके के तोर गांव की है। जहां पीड़ित महिला अपने पति के साथ रहती थी। इसी दौरान उसका सगा भतीजा देवेंद्र वर्मा ने अपनी हवस मिटाने के लिए रिश्तों को तार-तार कर दिया। आरोपी ने अपनी बुआ को ही हवस का शिकार बना डाला।

महिला ने जब इस घटना की जानकारी अपने पति को दी तो उसने स्थानीय पुलिस थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत की। लेकिन पुलिस ने पीड़ित महिला की शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया और उसकी मेडिकल जांच भी नहीं कराई। पीड़ित महिला पिछले एक महीने से न्याय पाने के लिए भटक रही थी, इसके बावजूद भी जब उसे न्याय नहीं मिला तो उससे परेशान पति ने मौत को गले लगा लिया। पुलिस को मृतक के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है।

 

महिला ने विधानसभा थाने में पदस्थ पुलिसकर्मी टेकराम साहू पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। महिला ने आरोप लगाया कि टेकराम साहू ने मामले को दबाने और आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के एवज में आरोपी से 4 लाख रुपए लिए हैं। उधर, इस घटना से गांव के लोगों में भारी आक्रोश है। नाराज लोगों ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर विधानसभा थाने के घेराव की चेतावनी दी है।<