छत्तीसगढ़ : एक लाख 592 शिक्षकों को मुख्यमंत्री डॉ. रमन का तोहफा

छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश

रायपुर: छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद राज्य में पंचायत और नगरीय निकाय संवर्ग के शिक्षकों (शिक्षा कर्मियों) को नियमित करने की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है। इसके फलस्वरूप अब उन्हें चालू माह जुलाई से कोषालय के जरिए वेतन मिलने लगेगा।

इन शिक्षाकर्मीयों को नियमित करने के लिए दो दिनों तक प्रदेशभर में विकासखंड स्तर पर शिविरों का आयोजन किया गया, जिनमें ई-कोष के माध्यम से वेतन भुगतान के लिए एक लाख 592 शिक्षकों के बैंक खाता नंबर, कर्मचारी कोड नंबर, मोबाइल फोन नंबर और सेवा पुस्तिका से संबंधित जरूरी जानकारी दर्ज की गई।

स्कूल शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने 15 जुलाई को बताया कि अब सिर्फ दो हजार शिक्षक (शिक्षाकर्मियों) के लिए यह प्रक्रिया बाकी रह गई है, जो अगले दो दिनों में पूरी कर ली जाएगी। इस प्रकार सभी नियमित हो चुके शिक्षाकर्मियों का वेतन जुलाई महीने से कोषालय से मिलने लगेगा। उन्हें वेतन भुगतान बैंक के जरिये से किया जाएगा।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पिछले महीने की 14 तारीख को संभागीय मुख्यालय अम्बिकापुर (सरगुजा) में प्रदेशव्यापी विकास यात्रा के पहले चरण के समापन समारोह में विशाल जनसभा में शिक्षाकर्मियों को नियमित करने की घोषणा की थी। इसके बाद, स्कूल शिक्षा विभाग ने उनकी घोषणा पर तत्परता से अमल शुरू कर दिया।