छत्तीसगढ़ : उद्योगपतियों को ई-वे बिल में राहत, मुख्यमंत्री रमन ने की घोषणा

छत्तीसगढ़

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम (सीएसआईडीसी) और छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स के संयुक्त तत्वाधान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल समेत उद्योग जगत के कई नामी हस्तियों ने शिरकत की। कार्यक्रम में वित्त मंत्री ने GST लागू होने के बाद व्यापारियों को आ रही परेशानियों पर विस्तार से चर्चा की।
कार्यक्रम में वित्त मंत्री गोयल ने व्यापारी संगठनों को बताया कि, जितनी ज्यादा संख्या में लोग सरकार को शत-प्रतिशत टैक्स अदा करेंगे, सरकार को विकास कार्यों के लिए उतने ही ज्यादा वित्तीय संसाधन मिलेंगे और टैक्स कम करने में भी आसानी होगी। उन्होंने कहा कि, सरकार के पास आय का एक मात्र जरिया आयकर ही होता है।

‘छत्तीसगढ़ है समृद्ध राज्य’
इस मौके पर पीयूष गोयल ने बताया कि, छत्तीसगढ़ एक समृद्ध राज्य है जिसकी सभी सरकारी योजनाएं विकास को बढ़ावा देती हैं। उन्होंने कहा कि, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने जीएसटी को पूरे देश में सफलतापूर्वक लागू किया है। देश के उद्योग और व्यापार जगत का भी इसमें सहयोग मिला।’ पीयूष गोयल और रमन सिंह ने ‘नई रेल-नया छत्तीसगढ़’ नाम की पुस्तिका का भी विमोचन किया।

ई-वे बिल में राहत का ऐलान
सीएम रमन सिंह ने कार्यक्रम के दौरान व्यापारियों और उद्योगपतियों को ई-वे बिल में राहत देने का ऐलान किया। जिससे व्यापारी आसानी से अपना व्यवसाय कर सकेंगे। साथ ही उन्होंने राज्य में केन्द्र सरकार के सहयोग से रेल नेटवर्क के विकास और विस्तार के लिए किए गए कामों की भी जानकारी दी। कार्यक्रम में प्रदेश के कृषि और जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, लोक निर्माण, आवास और पर्यावरण मंत्री राजेश मूणत समेत अन्य मंत्री मौजूद रहे।