Raman-Singh

विधायक के साथ हुई मारपीट के मामले में होगी कार्रवाई, CM ने दिया आश्वासन

छत्तीसगढ़ रायपुर

रायपुर: छत्‍तीसगढ़ के महासमुंद से निर्दलीय विधायक विमल चोपड़ा के साथ हुई मारपीट मामले को लेकर विधायक ने मुख्‍यमंत्री रमन सिंह से मुलाका की. मुख्‍यमंत्री ने आईपीएस अधिकारी उदय किरण पर कार्रवाई करने का आश्‍वासन दिया है. इस मामले में सीएम ने जांच के आदेश दे दिए हैं.

सीएम से शिकायत करते हुए विधायक ने कहा कि आईपीएस उदय किरण की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है. साथ ही मंत्री अजय चंद्राकर को भी महासमुंद जाकर घायलों से मुलाकात करने के लिए कहा है.

बैडमिंटन मैदान के गेट के टूटने के कारण उठा विवाद
दरअसल, इस विवाद का कारण बाल बैडमिंटन के खिलाड़ियों और पास के मोहल्ले के बच्चों के बीच का उपजे विवाद से जुड़ा है. स्थानीय मिनी स्टेडियम में बाल बैडमिंटन के खिलाड़ी पैसे चंदाकर गेट लगवा रहे हैं. जिसे पास के देवार मोहल्ले में रहने वाले बच्चों खेल खेलकर तोड़ दिया. बच्चों की इस हरकत को देख आज ग्राउंड पहुंचे खिलाड़ियों और कोच को गुस्सा आ गया. लिहाजा वहां खेल रहे कुछ बच्चों को कोच ने तमाचा जड़ दिया. कुछ देर बाद बच्चे परिजनों के साथ वापस मैदान पहुंचे और विवाद बढ़ने लगा. जिसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई. मौके पर विवाद सुलझाने पहुंचे कोतवाली के सब इंस्पेक्टर ने खिलाड़ियों के कोच को चुप कराने तमाचा जड़ दिया और थाने ले गई.

विधायक विमल चोपड़ा सहित दर्जन भर लोगों की पिटाई
नाराज खिलाड़ियों के साथ स्थानीय विधायक विमल चोपड़ा अपने सैकड़ों समर्थको के साथ कोतवाली का घेराव कर नारे बाजी करने लगे. इसी बीच दूसरे पक्ष के लोग भी थाने पहुंचे और थाना के अंदर नारेबाजी करने लगे. दोनों पक्षों के चलते कोतवाली में हंगामें की स्थिति निर्मित हो गई. इसी बीच ट्रेनी आईपीएस सीएसपी उदय किरण और विधायक के बीच जमकर विवाद और झूमाझटकी शुरू हो गई. जिसके बाद विधायक समर्थकों के साथ थाना परिसर में धरने पर बैठ गये. जिसे देखते हुए ट्रेनी IPS ने पहले तो प्रदर्शनकारियों को समझाइश दी और जब नहीं माने तो भीड़ को खदेड़ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज कर दिया.