1 सितंबर से सरकार कर रही है बड़े बदलाव, जिससे आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर, जाने क्या है ये बदलाव

1 सितंबर से सरकार कर रही है बड़े बदलाव, जिससे आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर, जाने क्या है ये बदलाव

बिज़नेस राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

1 सितंबर से सरकार कर रही है बड़े बदलाव, जिससे आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर, जाने क्या है ये बदलाव

आगामी 1 सितंबर से कई बड़े बदलाव होने जा रहे हैं, जिनका असर सीधे आपके दैनिक जीवन और रसोई के बजट पर पड़ेगा. पहली तारीख को तेल कंपनियां रसोई गैस की कीमतों में बदलाव करती हैं. इसके अलावा बैंकों की तरफ से मिल रही मोराटोरियम की छूट अवधि भी समाप्त होने जा रही है. वहीं सरकार द्वारा भी कोरोना वायरस के चलते बंद की गई कई सेवाओं को फिर से शुरू किया जाएगा.आइये जानते है क्या-2 हो  रहे है बदलाव  

भारतीय रिजर्व बैंक संभवत: बैंकों के लोन की किस्त (EMI) के भुगतान पर रोक की सुविधा को 31 अगस्त से आगे नहीं बढ़ाएगा. सूत्रों ने कहा कि लोन भुगतान पर छूट को आगे बढ़ाने से कर्ज लेने वाले ग्राहकों का ऋण व्यवहार प्रभावित हो सकता है और इससे कोविड-19 की वजह से उनके समक्ष आए मुद्दों का भी हल नहीं होगा.

कोविड-19 महामारी के बीच सामान्य कारोबारी गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित होने की वजह से रिजर्व बैंक ने कंपनियों तथा व्यक्तिगत लोगों को राहत देते हुये ऋण की किस्तों के भुगतान पर एक मार्च से छह महीने के लिए छूट दी थी. छूट या किस्त भुगतान पर रोक की अवधि 31 अगस्त को समाप्त हो रही है. सूत्रों ने कहा कि कर्ज लेने वाले ग्राहकों के लिए यह अस्थायी राहत थी. उन्होंने कहा कि यदि छूट की अवधि को छह महीने से आगे बढ़ाया जाता है, तो इससे कर्ज लेने वाले ग्राहकों का ऋण व्यवहार प्रभावित हो सकता और भुगतान की अवधि शुरू होने के बाद चूक का जोखिम बढ़ सकता है.

एलपीजी की कीमतें

सबसे पहले बात रसोई से शुरू करते हैं. तेल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को LPG रसोई गैस सिलेंडर और हवाई ईंधन की नई कीमतों की घोषणा करती हैं. पिछले कुछ महीनों से कीमतों में इजाफा हो रहा है. 1 सितंबर को भी LPG की कीमतों में बढ़ोतरी हो सकती है. इसके लिए आपको पहले से मानसिक और आर्थिक तौर पर तैयार रहना होगा.

Fastag होने पर ही मिलेगा डिस्काउंट

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने अब यह नियम बनाया है कि 24 घंटे के अंदर किसी भी स्थान से वापस आने पर टोल टैक्स में छूट सिर्फ उन्हीं गाड़ियों को मिलेगी, जिनमें फास्टैग लगा होगा. इसका मतलब यह है कि अगर आप अपनी गाड़ी से किसी जगह जा रहे हैं और वहां से आप 24 घंटे के भीतर ही वापस लौटते हैं, तो टोल टैक्स की रकम में आपको तभी छूट मिलेगी, अगर आपकी गाड़ी में फास्टैग लगा होगा. अभी तक यह सुविधा सभी के लिए थी, लेकिन अब टोल टैक्स का कैश भुगतान करने वालों को यह छूट नहीं मिलेगी.

आधार में सुधार होगा महंगा

यूआईडीएआई ने एक ट्वीट के जरिये जानकारी दी है कि अब एक या अधिक अपडेट करने के लिए शुल्क 100 रुपये होगा, जिसमें बायोमेट्रिक्स अपडेट भी शामिल है. अभी आधार में डेमोग्राफिक डिटेल अपडेट के लिए 50 का शुल्क लेता है. आवेदन पत्र और फीस के साथ, आपको अपना नाम या पता या जन्मतिथि आधार में बदलने के लिए वैध दस्तावेज जमा करने होंगे.

महंगी होगी हवाई यात्राएं

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 1 सितंबर से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से उच्च विमानन सुरक्षा शुल्क वसूलने का फैसला किया है. एएसएफ शुल्क के तौर पर घरेलू यात्रियों से अब 150 के बजाए 160 रुपये वसूला जाएगा, वहीं अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से 4.85 डॉलर के बदले 5.2 डॉलर वसूला जाएगा.

टोल टेक्स बढ़ेगा

सरकार टोल टैक्स की दरों में 5 से 8 फीसदी तक इजाफा करने जा रही है. इससे निजी व व्यवसायिक वाहनों को अगल-अगल टोल टैक्स दरों के मुताबिक भुगतान करना होगा. सरकार सड़क हादसों में घायलों को मुफ्त इलाज (कैशलेस ट्रीटमेंट) देने की योजना को टोल टैक्स व्यवस्था से जोड़ने पर विचार कर रही है. इसके लागू होने पर टोल रोड पर चलना और मंहगा हो जाएगा.

मोदी सरकार दे रही है ‘सस्ता सोना’ खरीदने का सुनहरा मौका, जल्दी करें…

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी

जुड़ें:  FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram