Railway ने की नई प्लानिंग, बिना टिकट यात्रा की तो देना होगा 1000 रुपये जुर्माना!

बिज़नेस

नई दिल्ली : ट्रेन में बिना टिकट यात्रा करने वालों के लिए बुरी खबर है. जी हां, रेलवे की तरफ से बेटिकट यात्रा करने पर पकड़े जाने पर अब 1000 हजार रुपये तक जुर्माना देना पड़ सकता है. ऐसा रेलवे की तरफ से बिना टिकट यात्रा करने वालों पर लगाम लगाने के लिए किए जाने की उम्मीद है. दरअसल वेस्टर्न रेलवे (WR) ने बेटिकट यात्रियों से वसूले जाने वाले जुर्माने की मौजूदा रकम को बढ़ाकर चार गुना तक करने का प्रस्ताव दिया है.

अभी 250 रुपये जुर्माने का प्रावधान
अभी बिना टिकट पकड़े जाने पर 250 रुपये जुर्माना देना होता था. लेकिन अब यह बढ़कर 1000 रुपये हो सकती है. पश्चिमी रेलवे ने रेलवे बोर्ड दिल्ली के पास एक प्रस्ताव भेजा है. इस प्रस्ताव को पिछले सप्ताह रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी के मुंबई दौरे के दौरान भी पेश किया गया. रेलवे बोर्ड की तरफ से इस प्रस्ताव पर विचार करने का आश्वासन दिया गया है.

3.94 लाख यात्री बिना टिकट पकड़े
आपको बता दें कि वेस्टर्न रेलवे ने अप्रैल में बिना टिकट यात्रा करने वाले 3.94 लाख यात्रियों को पकड़ा था. इसमें बिना बुक कराने लगेज ले जाने वाले यात्री भी शामिल थे. इन यात्रियों से रेलवे ने 15.34 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला था, जो कि अप्रैल 2017 में वसूले गए जुर्माने से 26 प्रतिशत ज्यादा था. रेलवे को उम्मीद है कि जुर्माने की रकम बढ़ाने से बेटिकट यात्रा करने वालों की संख्या में कमी आएगी.

मौजूदा 250 रुपये जुर्माने से पहले बिना टिकट यात्रा करने वालों से 50 रुपये जुर्माना लिया जाता था. साल 2002 में जुर्माने की रकम 50 रुपये से बढ़ाकर 250 रुपये कर दी गई. अधारियों का कहना है कि रोजाना यात्रा करने वाले तमाम यात्री यह सोचकर टिकट नहीं लेते, क्योंकि उन्हें लगता है पकड़े जाने पर जुर्माने की रकम देना मंथली पास लेने के मुकाबले सस्ता है. गौरतलब है कि सेंट्रल रेलवे में रोजाना करीब 3 हजार जबकि वेस्टर्न रेलवे में करीब 1300 यात्री बिना टिकट यात्रा करते पकड़े जाते हैं.