कांग्रेस में भाजपा का विकल्प बनने की क्षमता ही नहीं, चुनाव के समय शिमला में पिकनिक मना रहें थे राहुल गाँधी : RJD

Congress में BJP का विकल्प बनने की क्षमता ही नहीं, चुनाव के समय शिमला में पिकनिक मना रहें थे राहुल गाँधी : RJD

बिहार राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

पटना. आज बिहार के लिए बहुत अहम दिन है. आज सोमवार को एक बार फिर Nitish Kumar की CM के पद पर ताजपोशी होनी है. Nitish Kumar सातवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बनने वाले हैं. इस बीच RJD की ओर से एक बयान आया है, जिसमें RJD ने महागठबंधन में शामिल Congress पर निशाना साधा है. RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि Congress में क्षमता ही नहीं है कि वह BJP का विकल्प बन सकें. जब चुनाव चल रहें थें तब राहुल गाँधी अपनी बहन के घर शिमला में पिकनिक मना रहें थें.

Congress में BJP का विकल्प बनने की क्षमता ही नहीं : RJD

RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा है कि ऐसा कभी लगा ही नहीं कि Congress बिहार चुनाव को गंभीरता से ले रही हो. जो भी नेता बिहार आएं, वे पटना में महज प्रेस वार्ता तक सीमित रह गए और सिर्फ वहीं बयान देते रहें. कांग्रेस में भाजपा का विकल्प बनने की क्षमता ही नहीं है.

बता दें हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में RJD राज्य की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, परन्तु महागठबंधन में होने के बावजूद भी वह बहुमत से दूर रह गई और NDA पूरे बहुमत के साथ आज सरकार बनाने जा रही है.

आज 4.30 बजे होगी नीतीश की ताजपोशी, सातवीं बार लेंगे सीएम पद की शपथ, नड्डा-शाह होंगे शामिल

शिवानंद ने आगे कहा कि बिहार में चुनाव की सरगर्मी बढ़ रही थी. अकेले तेजस्वी यादव के नेतृत्व वाली आरजेडी भाजपा और जेडीयू जैसे मजबूत दलों से लड़ रही थी और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) शिमला में बहन प्रियंका वाड्रा के घर पिकनिक मना रहे थे. कांग्रेस बिहार में 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही थी, लेकिन 70 जनसभाएं भी नहीं कर पाईं. यहां तक कि राहुल गांधी ने भी सिर्फ चार सभाएं ही कीं.

कांग्रेस में भाजपा का विकल्प बनने की क्षमता ही नहीं, चुनाव के समय शिमला में पिकनिक मना रहें थे राहुल गाँधी : RJD

गंभीर होना होगा Congress को

शिवानंद ने कहा कि क्या ऐसे ही पार्टी चलती है? उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इसी रुख का फायदा भाजपा उठा लेती है, यह सिर्फ बिहार के हाल नहीं है, सभी राज्यों में ऐसा हो रहा है. कांग्रेस को इस बारे में मंथन करना चाहिए. देश की सबसे बड़ी और पुरानी पार्टी होने का दावा करने वालों को चुनाव के प्रति तो गंभीर होना होगा. पार्टी आलाकमान एक बार फिर विचार करें. बिहार की हार पर मंथन के बहाने अपनी रणनीति पर दोबारा सोचें.

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *