रीवा में जल्द दौड़ेगी सिटी बस | REWA NEWS


रीवा। पिछले दो वर्षों से अमृत योजना, अरबन ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट के तहत ननि शहर में सिटी बसों के संचालन के लिए कवायद करता आ रहा है। मगर दोनों बार नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग भोपाल द्वारा रीवा में सिटी बस संचालन के लिए ननि को क्लस्टर हेतु निविदा प्राप्त नहीं हुई।
दो साल से लगातार सिटी बस संचालन के लिए जद्दोजहद करने के बाद  अब जाकर नगर निगम ने इस योजना के लिए कुछ हद तक सफलता पाई है। सूत्रों की मानें तो लगभग तीन महीने के अंदर रीवा शहर में सिटी बस संचालन शुरू हो जाएगा, जिससे लोगों को सस्ते आवागमन की सुविधा मिल सकेगी। साथ ही सिटी बसें शहर के अलावा जबलपुर व छतरपुर तक भी राहगीरों को पहुंचाएंगी।
गौरतलब है कि शहर में रूटीन ट्रांसपोर्ट के लिए आॅटो ही नगरवासियों का एकमात्र सहारा है। मगर कुछ दिनों से आॅटो चालकों की मनमानी वसूली के आगे जिला प्रशासन ने हाथ खड़े कर लिए। जिसके कारण लोगों को मजबूरन अधिक भाड़ा देना पड़ रहा है। मगर शहर में सिटी बस शुरू हो जाने के बाद नगरवासियों को सस्ती आवागमन की सुविधा मिल जाएगी। शहर में सिटी बस चलाने के लिए नगर निगम ने एक प्राइवेट ट्रेवल्स कंपनी का टेण्डर स्वीकृत किया है। एमआईसी से स्वीकृति मिलने के बाद राज्य स्तरीय तकनीकी समिति को आवेदन भेजा जाएगा। जिसमें करीब डेढ़ से दो माह लग जाएंगे। राज्य स्तरीय तकनीकी समिति से स्वीकृति मिलने के बाद शहर में सिटी बस संचालन शुरू हो जाएगा। 
क्लस्टर-2 के लिए हुआ है टेण्डर
सिटी बस सर्विस के मुख्य संचालक अधिकारी ने बताया कि फिलहाल कलस्टर-2 के लिए टेण्डर हुआ है। एमआईसी से मंजूरी के बाद राज्य स्तरीय तकनीकी समिति को आवेदन भेजा जाएगा। वहां से स्वीकृति मिलने के बाद नगरवासियों को सिटी बस की सुविधा मिलने लगेगी। बता दें कि क्लस्टर-2 में रीवा से सतना के लिए 6 मीडियम साइज बसें, रीवा से छतरपुर के लिए 2 स्टैण्डर्ड बसें, रीवा से जबलपुर के लिए 2 एसी व 2 नॉन एसी बसों का संचालन होगा। वहीं न्यू बस स्टैण्ड से पीटीएस और रेलवे स्टेशन से रतहरा बाईपास तक के लिए 11 सिटी बसें संचालित होंगी। 
फिर होगी निविदा प्रक्रिया
नगर निगम की सिटी बस योजना में कुल 3 क्लस्टर हैं। जिसमें क्लस्टर-1 के तहत सिंगरौली व शहडोल के लिए व क्लस्टर-3 में हनुमना व चाकघाट सहित शहरी बस सेवा शुरू की जानी है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि शहर में सिटी बस संचालन के लिए ननि प्रबंधन ने पहले भी कोशिश की थी मगर आॅपरेटर न मिलने के कारण यह संभव नहीं हो सका। एक बार फिर से नगर निगम आॅपरेटर ढूंढ़ने के लिए टेण्डर प्रक्रिया दोहराएगा।
क्लस्टर-2 के लिए टेण्डर खोला गया है। भोपाल में एसएलटीसी होने के बाद शहर में सिटी बस संचालन शुरू हो जाएगा। उम्मीद है कि 25 जून तक लोगों को यह सुविधा मिलने लगेगी।
आनंद सिंह, सहायक यंत्री नगर निगम

No comments

Powered by Blogger.