आधीरात तक हुआ गैंगरेप, सुबह बदमाशों को बंद करके भाग निकली पीड़िता | CRIME NEWS


नागपुर। 18 साल की एक लड़की को किडनैप किया गया। एक कमरे में उसे बंधक बनाया गया। जबरन शराब पिलाई और फिर 2 बदमाशों ने 2 बार गैंगरेप किया। आधी रात तक उसके साथ दुष्कर्म किया जाता रहा। फिर शराब के नशे में बदमाश सो गए। पीड़िता भी यौन हमले के कारण बेहोश हो गई। सुबह 4 बजे पीड़िता को होश आया। उसने सूझबूझ का परिचय दिया। दोनों बदमाशों के फोन अपने कब्जे में लिए और दोनों को बंद करके भाग निकली। पुलिस को जाकर सबकुछ बता दिया। 


पीड़िता कॉलेज में प्रथम वर्ष की छात्रा है। एक ब्यूटी पार्लर में ब्यूटिशन की ट्रेनिंग कर रही पीड़िता जब शनिवार को वहां पहुंची तो देखा कि पार्लर बंद था। यह देख वह वापस जाने लगी। वह रात 8 बजे जब ऑटोमोटिव स्क्वेयर पहुंची तो बाइक सवार आरोपी उसे बातों में उलझाकर महसाला गांव ले गए। वहां एक किराये के घर में उसके साथ गैंगरेप किया गया। 

शराब के नशे में सोये थे 
पीड़िता ने अपनी शिकायत में बताया है कि आरोपियों ने उसे बांधा और जबरदस्ती शराब भी पिलाई। दो बार उसके गैंगरेप किया गया। उसके साथ अप्राकृतिक संबंध भी बनाए गए इसके बाद शराब के नशे में सभी सो गए। अगले दिन रविवार को सुबह करीब 4 बजे जब पीड़िता की आंख खुली तो उसने बाकी सभी को सोता देख भागने की इरादा किया। उसने काफी देर इंतजार किया और फिर दोनों आरोपियों को कमरे के अंदर बंद कर भाग गई। 

सबूत के लिए फोन लेकर भागी 
बहादुरी का उदाहरण देते हुए उसने भागने से पहले दोनों के फोन ले लिए। उसने कहा कि अगर उसने सबूत के तौर पर फोन नहीं लिया होता तो पुलिस उसकी शिकायत दर्ज नहीं करती। बताया गया है कि दोनों आरोपी सलाम और श्रीबस के नाम और भी कई शिकायतें हैं। दोनों फरार चल रहे हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है।

No comments

Powered by Blogger.