नितिन के हत्यारे को 3 दिन की रिमांड, कबूला जुर्म, बताई हत्या की वजह...|| REWA NEWS



रीवा शहर के बहुचर्चित टीआरएस कॉलेज हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपी वैभव ठाकुर को पनाह देने वाले उसके तीन रिश्तेदारों सहित आरोपी वैभव को तीन दिन के लिए पुलिस रिमांड में लिया गया है। वहीं वारदात में प्रयुत पिस्टल भी पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर जप्त कर ली है। आरोपियों से वारदात के संबध में और भी पूछताछ की जाएगी। 

मामले में शामिल एक आरोपी फिलहाल फरार है, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। गौरतलब है कि गत 27 मार्च को टीआरएस कॉलेज में वैभव सिंह एवं संग्राम सिंह ने बीएससी अंतिम वर्ष के छात्र नितिन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना के बाद कॉलेज में मौजूद छात्रों ने संग्राम सिंह को पकड़ लिया था, जबकि गोली मारने वाला मु य आरोपी अपने अन्य साथियों की मदद से भागने में कामयाब रहा। पुलिस ने आरोपी पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा था। लगातार 11 दिनों तक पुलिस को चकमा देते हुये आरोपी शनिवार को अधिवक्ता के माध्यम से न्यायालय में सरेण्डर करने की फिराक में पहुंचा था, जिसकी सूचना मिलते ही एएसपी शिवकुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिर तार कर लिया था। पुलिस ने रविवार को न्यायालय के समक्ष पेश कर सभी आरोपियों को तीन दिन की पुलिस रिमाण्ड पर लिया है। 

संदेह के दायरे में छात्रा

घटना के आरोपियों में पहले संग्राम सिंह, फिर सत्यम तिवारी के बाद अब मुख्य आरोपी वैभव ठाकुर द्वारा भी वारदात के पीछे टीआरएस महाविद्यालय रीवा में प्रथम वर्ष कक्षा में पढ़ रही छात्रा का हांथ होना बताया है। बताया जा रहा है आरोपियों के बयानो के बाद एक बार फिर पुलिस छात्रा से पूंछतांछ करेगी। वहीं सूत्रो की माने तो छात्रा पर एक दो दिन के अंदर धारा-120बी के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया जा सकता है। पुलिस के आला अधिकारी अभी इस संबंध में विचार विमर्श कर रहें है।

आरोपी को पनाह देना पड़ा मंहगा : 
नितिन की हत्या के आरोपी वैभव को पनाह देना उसके तीन रिस्तेदारों को मंहगा पड़ गया। आरोपी वैभव हत्या को अंजाम देने के बाद फरारी अपनी मौसी के यहां गढ़ थाना के ग्राम पैकनगांव में काटी थी। इस दौरान आरोपी को उसके रिश्तेदार मुन्ना सिंह उर्फ अविनीश सिंह, दिवाकर सिंह पिता भैयाबहादुर सिंह 18 वर्ष कुईसा उर्फ दीपेन्द्र सिंह रकसेल 19 वर्ष ने पनाह दी थी और सारी सुविधाएं मुहैया कराईं थी। पुलिस ने वैभव की निशानदेही पर इन तीनों को भी पकड़ लिया है और रिमांड में लिया गया है। 

हत्या में प्रयुक्त पिस्टल बरामद : 
वारदात में प्रयुत पिस्टल आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने जत कर ली है। वैभव हत्या को अंजाम देने के बाद दोस्तों के साथ सीधे निराला नगर स्थित किराए के मकान में गया था, जहां उसने 9 एमएम पिस्टल को छुपाने के बाद अनंतपुर स्थित मौसी के घर गया, लेकिन उन्होंने वैभव को घर से भगा दिया। इसके बाद वैभव स्कूटी से अपनी दूसरी मौसी के यहां पैकन गांव पहुंच गया। हालांकि पनाह देने वाले आरोपियों का कहना है कि वह एक दिन ही उसके यहां रहा उसके बाद भगा दिया गया लेकिन आरोपी पूरे दिन रहने की बात कबूली है।

No comments

Powered by Blogger.