जोधपुर केंद्रीय जेल की बैरक-2 में एक ही छत के नीचे बीतेगी सलमान और आशाराम की रात || काला हिरण केस में सलमान को 5 साल की सजा



नई दिल्ली: काला हिरण केस में सलमान खान को बहुत बड़ा झटका लगा है। जोधपुर सीजेएम कोर्ट के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने सलमान खान को पांच साल की सजा सुनाई है। इसके साथ ही उनपर 10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। सजा सुनाए जाने के तुरंत बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। सलमान को जोधपुर सेंट्रल जेल में रखा जाएगा। सूत्रों के मुताबिक आज जमानत अर्जी पर सुनवाई संभव नहीं है। शुक्रवार को सेशन कोर्ट में जमानत पर सुनवाई होगी। सलमान खान को जोधपुर जेल के बैरक नंबर 2 में रखा गया है। खास बात यह है कि इसी बैरक में साध्वी रेप केस के दोषी आसाराम को भी रखा गया है। सलमान खान को आम कैदियों की तरह ही खाना दिया जाएगा।

दो दशक बाद आया फैसला
20 साल बाद इस मामले में सलमान को सजा का ऐलान हुआ। राजस्थान के जोधपुर कोर्ट में सीजेएम देव कुमार खत्री ने सलमान खान को दोषी करार दिया। सलमान खान को सजा देने के लिए जज ने ब्रेक भी लिया। फैसला सुनाने के बाद जज लंच करने गए। वहीं सलमान खान के खिलाफ फैसला आने के बाद विश्नोई समाज में जश्न का माहौल बना हुआ है।

सलमान के अलावा सब बरी
सलमान के अलावा सभी आरोपी सितारों सैफ अली खान , तब्बू, सोनाली बेन्द्रे और नीलम को बरी कर दिया है। जीव रक्षा बिश्नोई सभा ने अन्य आरोपी सितारों को बरी करने के फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष शिवराज बिश्नोई ने कहा कि इस मामले से जुड़ अन्य आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती दी जाएगी।

1998 में किया था काले हिरण का शिकार
हम साथ साथ हैं फिल्म की शूटिंग के दौरान 2 अक्तूबर, 1998 की है। सलमान खान और अन्‍य कलाकार वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 तथा भारतीय दंड संहिता की धारा 149 के तहत आरोपों का सामना कर रहे हैं। अदालत में बहस के दौरान सरकारी वकील भवानी सिंह भाटी ने कहा कि उस रात सभी कलाकार जिप्सी कार में थे, सलमान खान वाहन चला रहे थे। हिरणों का झुंड देखने पर उन्होंने गोली चलाई और उनमें से दो हिरण मार दिए थे। उन्होंने कहा कि जब लोगों ने उन्हें देखा और उनका पीछा किया तो ये कलाकर मृत हिरणों को मौके पर छोड़कर भाग खड़े हुए।

हिट एंड रन केस में मिली थी राहत
इससे पहले सलमान खान पर जो बड़ा मामला चल रहा था वो हिट एंड रन का था, जिसमें दिसंबर 2016 में बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला आया था। हाईकोर्ट ने सलमान को सभी आरोपों से बरी कर दिया था। इससे पहले ट्रायल कोर्ट ने मई, 2015 में सलमान ख़ान को दोषी क़रार दिया था। काला हिरण के अलावा ये केस और चल रहे हैं सलमान पर काला हिरण केस के अलावा भी सलमान खान कई और मामलों में भी लिप्त रहे हैं, जिनमें से कई मामलों में वो बरी भी हो चुके हैं।

आइए उन मामलों के बारे में आपको बताते हैं जिनकी वजह से सलमान का अदालतों से काफी पुराना नाता रहा है।
1. घोड़ा फार्म हाउस केस: अप्रैल 2006 में सीजेएम कोर्ट ने सलमान को इस मामले में 5 साल की सजा सुना दी थी। इस फैसले के खिलाफ सलमान हाईकोर्ट गए थे, जहां 2016 में हाईकोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया था। लेकिन राजस्थान सरकार ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

2. .भवाद गांव केस: इस केस में सीजेएम कोर्ट ने 17 फरवरी 2006 को सलमान खान को दोषी करार देते हुए एक साल की सजा सुनाई थी, लेकिन हाईकोर्ट ने इस मामले में सलमान को बरी कर दिया। इस फैसले के खिलाफ भी राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

3.. आर्म्स केस: सलमान खान के खिलाफ लंबित मामलों में ये केस सबसे अहम है। जोधपुर में 22 सितंबर, 1998 को सलमान खान के कमरे से पुलिस ने एक रिवॉल्वर और राइफल बरामद की थी। सलमान पर आरोप लगा था कि उन्होंने इस हथियार का इस्तेमाल शिकार में किया था। इसके बाद सलमान के खिलाफ आर्म्स एक्ट लगा था। 18 जनवरी 2017 को लोअर कोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया था। इसके खिलाफ भी हाईकोर्ट में अपील की गई है।

No comments

Powered by Blogger.