मास्टर ब्लास्टर सचिन की दरियादिली : प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा कर दिया राज्यसभा का अपना पूरा वेतन

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर का कार्यकाल राज्यसभा सांसद के तौर पर हाल ही में खत्म हो गया। इसके बाद सांसद के तौर पर उन्हें वेतन और अन्य मासिक भत्ते के तौर पर जो 90 लाख रुपए की राशि मिली थी उसे उन्होंने प्रधानमंत्री राहतकोष में जमा कर दिया। सचिन ने सांसद के तौर पर पिछले छह वर्षों में इतनी राशि कमाई थी।
सचिन की इस दरियादिली के बाद पीएमओ की तरफ से एक आभार पत्र जारी किया गया जिसमें लिखा गया था कि माननीय प्रधानमंत्री ने आपके इस योगदान के लिए आपका धन्यवाद अदा किया है। आपके द्वारा दी गई राशि संकट में फंसे लोगों को सहयता पहुंचाने के काम आएगा।
सचिन तेंडुलकर के अलावा भारतीय सिने जगत की फिल्म अभिनेत्री रेखा की इस बात को लेकर काफी आलोचना की जाती थी कि संसद में उनकी उपस्थिति काफी कम है। सचिन ने अपने क्षेत्र के विकास के लिए जारी की गई रकम का भी अच्छा इस्तेमाल किया था। सचिन के ऑफिस की तरफ से एक डेटा रीलिज की गई जिसके मुताबिक उन्होंने देश भर में 185 परियोजनाओं को मंजूरी देने साथ ही उन्हें आवंटित की गई 30 करोड़ रुपए में से 7.4 करोड़ रुपए ढ़ांचागत विकास और शिक्षा पर खर्च करने का दावा किया गया है।
सचिन तेंडुलकर ने आदर्श ग्राम योजना के तहत दो गावों के भी गोल लिया था जिसमें आंध्र परदे सा पुत्तम राजू केंद्रिगा और महाराष्ट्र का दोंजा गांव शामिल है। इससे पहले सचिन ने जम्मू कश्मीर के बांदीपोरा जिले के स्कूल की इमारत बनाने के लिए 40 लाख रुपए दिए थे। सचिन निजी तौर पर भी कई एनजीओ की लगातार मदद करते रहते हैं।

No comments

Powered by Blogger.