अब ये संवारेगे विंध्य के किले और ऐतिहासिक गढ़ी को, क्योटी की ऐतिहासिक गढ़ी भी शामिल | REWA NEWS


रीवा। प्रदेश भर की 16 परिसंपतियों को पर्यटन विभाग के माध्यम से निवेशकों को आवंटित करने की तैयारियों के बीच गोविंदगढ़ किले को इन्वेस्टर्स के लिए आवंटित किया गया है। रीवा के इस ऐतिहासिक किले के विकास और संवर्धन को ध्यान में रखते हुए निविदा प्रक्रिया के बाद इन्वेस्टर्स को हस्तांतरित किया गया है। पर्यटन विभाग के पास मौजूद पांच हेरिटेज सम्पत्तियों में से दो हेरिटेज परिसम्पत्तियां निजी निवेशकों को आवंटित कर दी गई हैं।
इसके अतिरिक्त सतना के माधवगढ़ फोर्ट को भी हेरिटेज होटल स्थापित किये जाने के लिये इसी साल निवेशकों को सौंप दिया जाएगा।
क्योटी की ऐतिहासिक गढ़ी भी शामिल
बताया गया है कि आगामी वर्षों में निजी निवेशकों के माध्यम से हेरिटेज होटलों के विकास के लिये हेरिटेज परिसम्पत्तियों का बैंक बनाया जाना है। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित साधिकार समिति द्वारा प्रदेश भर में इस तरह की हेरिटेज परिसम्पत्तियों को पर्यटन विभाग को हस्तांतरित करने के लिये चिन्हित भी किया गया है। इसमें रीवा की सिरमौर तहसील में स्थित क्योटी का ऐतिहासिक किला भी शामिल हैं। इसी किले से सटकर प्रदेश का प्रसिद्ध क्योटी फाल बहता है जिसे देखने के लिए हर वर्ष देश-विदेश से कई पर्यटक आते हैं।  

No comments

Powered by Blogger.