GOOD NEWS : रीवा हनुमना सोनौरी मार्ग सहित बनेगे चार सौ से अधिक ब्रिज और फ्लाईओवर | MP NEWS


भोपाल। प्रदेश में तीन साल के अंदर चार सौ से अधिक ब्रिज और फ्लाईओवर बनाए जाएंगे। इससे करीब 30 लाख लोगों को राहत मिलेगी। भोपाल के ग्राम बरखेड़ा बोंदर भोपाल बायपास स्थित सेंट्रल फारेंसिक साइंस लैबोरेटरी रोड के पास करीब दो किलोमीटर लंबा ब्रिज बनाया जाएगा। वहीं, तवा ब्रिज से सलकनपुर गोरा चंदला रोड पर 18 किलोमीटर लंबा ब्रिज बनाया जाएगा। इसकी अनुमानित लागत 1617.90 करोड़ रुपए है। इन ब्रिज और फ्लाईओवर को बनाने के लिए सरकार ने एनडीबी और एडीबी से 35660.49 करोड़ रुपए लोन लिया जाएगा। इसमें से करीब 1900 करोड़ रुपए बैंकों ने ऋण भी दे दिया है। प्रदेश में आधा दर्जन ब्रिज पांच किलोमीटर से अधिक लम्बाई के होंगे। इनका निर्माण सितंबर में शुरू होगा होगा।

फ्लाईआवर पर 8628.55 लाख खर्च होने का अनुमान है। इनके अलावा प्रदेश में 400 छोटे-बड़े ब्रिज और फ्लाईओवर प्रस्तावित है। ये जहां बनाए जाने हैं, वहां बारिश के दौरान नदियों में पानी भरने से आवागमन बाधित हो जाता है। वर्तमान में इन सड़कों में पुल पुलिया अथवा रपट बने हुए हैं। कई ब्रिज जर्जर हो चुके हैं। लोक निर्माण विभाग ने सभी चीफ इंजीनियरों को पुलों की डीपीआर तैयार करने के लिए कहा है।
भोपाल में दो और आरओबी बनेंगे
भोपाल में बरखेड़ी फाटक और करोंद मंडी रेलवे फाटक के पास आरओबी बनेंगे। इनकी अनुमानित लागत 2584.38 लाख रुपए है। इनके लिए जमीन का सर्वे शुरू हो गया है।
यह प्रदेश के बड़े फ्लाईओवर
जिला स्थान लंबाई किमी लागत
श्योपुर ददुनी से चमकला मार्ग 5.90 307.72
ग्वालियर शीतला माता चिनोर डबरा 6.90 2735.42
सतना भमरहा कंदवारी मूर्तिहाई मार्ग 8.31 861.81
सतना पहाड़ी से बेलदार 6.80 543.88
रीवा हनुमना सोनौरी मार्ग 5.81 1921.59
होशंगाबाद तवा ब्रिज सकतपुर गोरा चंदला मार्ग 18.00 1617.90
400 से अधिक ब्रिज के लिए प्रस्ताव तैयार किए हैं। यह ब्रिज और आरओबी बनाने के लिए बैंकों से ऋण लिया जा रहा है। स्टेट बजट में भी प्रावधान किया गया है।

No comments

Powered by Blogger.