SC/ST एक्ट को पूर्ववत लागू कराने सड़क पर उतरें दलित-OBC, बंद कराईं दुकाने, इन जगहों पर हुई झड़प || REWA NEWS



रीवा. सुप्रीप कोर्ट की ओर से एससी-एसटी एक्ट में किए गए बदलाव के खिलाफ विभिन्न संगठनों के युवा सडक़ पर आ गए। विवेकानंद पार्क पर एकजुट हुए होकर शहर में जुलूस निकाला और एक्ट को पूर्व की तरह लागू किए जाने की मांग उठाई है। महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है। इस दौरान भारत बंद के तहत दुकानें भी बंद कराई। जुलूस के दौरान सिरमौर चौराहा सहित कई जगहों पर नोंकझोंक भी हुई। इस दौरान समस्त एससी-एसटी संगठनों सहित अखिलभारतीय ओबीस महासभा के पदाधिकारी भी शामिल रहे। उधर, सपाक्स के कार्यकर्ताओं ने भारत बंद के विरोध में सिरमौर चौराह पर एसडीएम को सौंप कर सुप्रीप कोर्ट के आदेश को जायज बताया है। 


एक्ट को पूर्व की तरह लागू कराने उठाई मांग

अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 में संशोधन को वापस लेकर एक्ट को पूर्व की तरह लागू कराने को लेकर पूर्व घोषित भारत बंद के तहत कई संगठनों ने शहर में जुलूस निकाल कर दुकानें बदं कराई। इस दौरान कई जगहों पर झड़प भी हुई। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ समर्थन में ओबीसी सहित एससी-एसटी के कई संगठनों ने संयुक्तरूप से विरोध कर रहे हैं। आंदोलन विवेकानंद पार्क से शुरु हुआ। इस दौरान भारी पुलिस बल लगी रही। प्रदर्शन के दौरान मनोज सिद्धार्थ, मुन्ना रावत सहित ओबीसी के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश डायमंत्री ने कहा कि सुप्रीप कोर्ट की ओर से संशोधित अधिनिम को पूर्व की तरह लागू किया जाए। 


कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन

सुप्रीप कोर्ट के आदेश को पूर्व की तरह बरकार रखने के लिए आंदोलित दलित, ओबीसी युवाओं ने शहर में जुलूस के बाद जगह-जगह सभाएं और बाबा भीमराव अंबेडर के नारे लगाए। इस दौरान जय..जय...जयभीम के नारे के साथ एक्ट को पूर्व की तरह लागू करने की मांग उठाई है। प्रदर्शन के दौरान विवेकानंद पार्क से जुलूस लेकर सिरमौर चौराहा, शिल्पी प्लाजा, अमहिया, प्रकाश चौराहा होते हुए कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। यहां पर प्रदर्शन कर महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन के दौरान अखिल भारतीय ओबीसी के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश डायमंड, बसपा नेता पंकज सिंह सहित सैकड़ो की संख्या में लोग मौजूद रहे।



प्रदेश में मुरैना सहित कई जगहों पर झड़प
प्रदेश के मुरैना सहित कई जगहों पर गोली चली, जिसमें कई लोगों के मरने की सूचना है। कई जिलों में छिटपुट घटनाएं भी हुई हैं। रीवा में पूरी तरह शांतिपूण रहा। कुछ जगहों पर मामूली कहासुनी हुई। उधर, सपाक्स के कार्यकर्ताओं ने भारत बंद का विरोध किया है।

No comments

Powered by Blogger.