कान्ट्रेक्टर की कार से 11 लाख रूपए पार, शाम ढलते ही हुई वारदात || CRIME NEWS

सतना। सिविल लाइन थाना अंतर्गत कोठी तिराहे के पास प्रतिहार होटल के सामने खड़ी स्कार्पियो में ड्राइविंग सीट के बगल में रखे 11 लाख रूपयों से भरे बैग को चोरों ने कार मालिक को झांसा देकर पार कर दिया।  शाम साढ़े 6 बजे के करीब दमोह के कान्ट्रेक्टर पंकज जैन सडक़ किनारे लगी फल की दुकानों से फल खरीद रहे थे। इसी बीच उठाईगीरों का गिरोह उनके पास पहुंचो और टाउन हाल के सामने तीन घंटे पहले हुई वारदात की तर्ज पर ही उनसे कहा कि आपकी जेब से 2 सौ रूपए गिर गए। उन्होंने नीचे झुक कर देखा और नोट उठाने लगे। इसी बीच उनकी नजर अपने कार की ड्राइविंग सीट की तरफ गई तो देखा कि गेट खुला हुआ है। पंकज जैन ने जब करीब जाकर देखा तो सीट के बगल में रखा 11 लाख रूपयों से भरा बैग गायब था।

पार्टनर को दी सूचना
दमोह निवासी पंकज जैन ठेकेदारी का काम करते हैं और राजेन्द्र नगर सतना में रहने वाले अरुण पटनहा उनके पार्टनर हैं। इस घटना की जानकारी तत्काल उन्होंने अरुण पटनहा को फोन पर दी। इसी के साथ ही सिविल लाइन पुलिस को भी सूचना दी गई। संभावित जगहों पर तलाशने के बाद कुछ देर में महावीर चौक  के पास उनका लावारिश बैग पड़ा मिला, लेकिन पैसे गायब थे।

सीसीटीवी फुटेज से मिला सुराग
पंकज जैन ने बताया कि जिन दो लडक़ों ने उन्हें जेब से नोट गिरने की बात बताई थी उनमें से 1 युवक कंधे पर लाल गमछा रखे हुए है और धारीदार शर्ट पहने है। बड़े बालों वाले इस लडक़े को एचडीएफसी बैंक के सीसीटीवी कैमरे में भी देखा गया है। पंकज ने इसी बैंक से 6 लाख रूपए निकाले थे, शेष 5 लाख की राशि लेबर पेमेंट के लिए अपने घर दमोह से लेकर आए थे। जब यह संदिग्ध लडक़ा बैंक के भीतर जा रहा था तो बैंक के गनमैन ने संदेह होने पर उससे पूछाताछ भी की थी, जिस पर उसने कहा कि यहां हमारा खाता है, पैसा निकालने आया हॅूं।

No comments

Powered by Blogger.