चाचा ने किया रिश्तों का कत्ल: पत्थर में पटक कर की मासूम की हत्या, फिर बोरे में भरकर नाले में फेंका शव | VINDHYA NEWS


सतना। आठ साल के मासूम को घर बुलाने के बाद उसे बेदम पीटा। पत्थर पर तब तक पटका जब तक उसकी सांस नहीं थम गई। इस तरह क्रूरतापूर्वक हत्या करने वाले का दिल नहीं पसीजा और उसने बोरे में शव भरकर गांव से लगे नाले में फेंक दिया। इस सनसनीखेज वारदात का पता चलते ही जब पुलिस मौके पर पहुंची तो शव बरामद करते हुए आरोपी को हिरासत में लिया। रामनगर थाना क्षेत्र के बेलहाई करहिया गांव में यह नृशंस वारदात हुई।
बच्चे को बंद कर मुन्ना ने बेदम पीटा
थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह जयसूर ने बताया कि करहिया गांव में रहने वाले मुन्ना उर्फ राजेश साकेत पुत्र राम मिलन साकेत (32) ने पुरानी दुश्मनी के चलते बगल में रहने वाले राम अवतार साकेत के बेटे सोनू साकेत (8) को शुक्रवार की दोपहर अपने घर बुलाया। घर के अंदर बच्चे को बंद कर मुन्ना ने बेदम पीटा और फिर पत्थर पर पटक कर उसकी हत्या कर दी।
तब पानी में बोरे को छिपा चुका था
हत्या के बाद सोनू का शव बोरे में भरकर मुन्ना गांव से लगे सुखड़ा नाले की ओर जा रहा था। तभी गांव के साकेत मोहल्ला में ही रहने वाले स्वामीदीन और रामदीन समेत अन्य लोगों की नजर मुन्ना की संदिग्ध हरकतों पर पड़ी तो उन्होंने पीछा कर लिया। तब तक मुन्ना नाले के पानी में बोरे को छिपा चुका था।
13 साल पुरानी रंजिश
पुलिस का कहना है कि वर्ष 2005 में मुन्ना के बाबा के घर में आग लगने पर इसका आरोप राम अवतार पर लगाया गया था। तब पुलिस जांच के बाद राम अवतार को तीन साल की जेल हुई। जेल से छूटने के बाद दोनों परिवारों में रंजिश चलने लगी। दो साल पहले भी दोनों परिवार के बीच विवाद हो चुका है। मुन्ना सनकी स्वभाव का बताया जा रहा है। इसलिए उसने मौका पाकर बच्चे को मौत के घाट उतार दिया।
युवक ने वीडियो बनाया
मुन्ना जब नाले में शव को छिपा रहा था तो उसकी हरकत को गांव के ही एक युवक ने मोबाइल फोन के कैमरे में कैद कर लिया। पहले तो मुन्ना यही बताता रहा कि जानवर है। गांव वाले ने संदेह होने पर जब बोरे को बाहर निकाल कर जांचा तो बच्चे का शव मिला। देखते ही सभी हैरान हो गए और फिर मृत मासूम के परिजनों के साथ पुलिस को सूचना देकर बुलाया।<

No comments

Powered by Blogger.