TRS COLLEGE : नितिन के हत्यारे को जब भीड़ ने पकड़ा तो हुआ ये | REWA NEWS

रीवा. 18 मार्च को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा था, बदमाशों पर सात दिन में एशन हो, वरना अफसर नपेंगे। सरकार की निगाह में कागजी कानून व्यवस्था बनाने में जुटी रीवा पुलिस को बदमाशों ने मंगलवार को 10 दिन में चुनौती दे डाली। पुलिस के गुण्डा महाभियान का फेल्योर उस वक्त देखने को मिला। जब टीआरएस कॉलेज के अंदर पिस्टल लहराते हुये घुसे बेखौफ बदमाशों ने फिल्मी अंदाज में छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी। छात्र की हत्या के बाद लोगों का आक्रोश पुलिस पर फूट पड़ा और आक्रोशित लोगों ने मौजूद पुलिस अधिकारियों को जमकर खरी खोटी सुनाई। आक्रोशित लोगों ने कहा, पुलिस का खौफ महज आमजन व बेकसूरों पर है। वहीं, घटना को लेकर कॉलेज प्रबंधन ने पूरी तरह से मॉन धारण कर लिया है। Click here to download Rewa Riyasat's Android App

अक्सर मारपीट और विवादों को लेकर सुर्खियों में रहे टीआरएस कॉलेज में छात्र की हत्या के बाद पढऩे वाले छात्रों के परिजनों में भी भय व्याप्त है।अस्पताल पहुंचीं कलेटर प्रीति मैथिल ने परिजनों से बात की और मृत नितिन की मां को सांत्वना दी। 

छात्रा के बुलाने पर कॉलेज गए थे आरोपी
हत्या की मुख्य वजह एक छात्रा बताई गई है। जानकारी के मुताबिक टीआरएस कॉलेज में द्वितीय वर्ष में अध्यनरत छात्रा द्वारा आरोपी वैभव ठाकुर और मयंक सिंह उर्फ संग्राम को किसी अन्य छात्र को सबक सिखाने के लिए बुलाया गया था। छात्रा के बुलाने पर वैभव अपने साथी मयंक व कुछ अन्य के साथ कॉलेज पहुंचा और छात्रा द्वारा बताए गए विनय सिंह नामक छात्र को बुलाकर उसे गन प्वाइंट पर ले लिया। बताया गया कि आरोपी छात्र को अपने साथ ले जाने का प्रयास कर रहे थे। इसी बीच पीटीएस चौराहा निवासी नितिन पुत्र एनके सिंह गहरवार ने घटना का विरोध किया। आरोपी वैभव ने विनय को छोड़कर नितिन पर बंदूक तान दी और देखते ही देखते गोली दाग दी। बंदूक से निकली गोली नितिन के सीने में जा धंसी और अस्पताल पहुंचकर उसकी मौत हो गई। Click here to download Rewa Riyasat's Android App



पूरी घटना कैमरे में कैद
कॉलेज परिसर में गोली चालन की पूरी घटना कॉलेज में लगे सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई। पुलिस ने कॉलेज पहुंचकर फुटेज को खंगाला है और घटना से संबंधित फुटेज ज त किए हैं। बताया गया कि फुटेज में स्पष्ट रूप से आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद पिस्टल लहराते हुए भाग रहा था। जबकि कॉलेज में प्रवेश करते ही आरोपी ने मुख्य द्वार पर लगे सीसीटीवी के सामने खड़े होकर पिस्टल दिखाते हुए ललकारा कि आज जो सामने आएगा उसे रास्ते से हटा दिया जाएगा। आरोपी बेखौफ होकर कॉलेज में दाखिल हुआ और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गया।

आईजी की बैठक में थे थाना प्रभारी
एक ओर आईजी उमेश जोगा एसपी, एएसपी सहित शहर के सभी थाना प्रभारी सीएम द्वारा दिए गए एक सप्ताह के पूरा होने के दौरान गुण्डों पर की गई कार्रवाई की समीक्षा कर रहे थे। वहीं, दूसरी ओर बदमाश आईजी कार्यालय से महज 200 मीटर दूर पुलिस अधिकारियों को जवाब दे रहे थे।Click here to download Rewa Riyasat's Android App

बदमाशों की शरणस्थली बना टीआरएस कॉलेज 
टीआरएस कॉलेज इन दिनों पढाई की जगह गुण्डों और बदमाशों सहित आतंकियों को लेकर चर्चाओं का विषय बना हुआ है। महज तीन दिन पूर्व बीड़ा गांव से टेरर फंडिंग मामले में पकड़े गए युवक को लेकर चर्चाओं में आया टीआरएस कॉलेज मंगलवार को छात्र की हुई हत्या के बाद एक बार चर्चा में आ गया है। गोलीचालन की यह कोई पहली घटना नहीं है। इसके पूर्व आधा दर्जन घटनाएं हो चुकी हैं।

फेसबुक पर गोलियों की ही बात करता था आरोपी
बता दें इन दिनों रीवा के युवा वर्ग में कट्टा, बन्दूक जैसे प्राणघातक हथियार दिखाकर फोटो डालने की होड़ मची हुई है. पर ऐसे लोगों पर कार्रवाई कर पाने में रीवा पुलिस नाकाम है, इसी का हर्जाना मंगलवार को नितिन नामक छात्र को अपनी जान गवांकर भरना पड़ा. नितिन की हत्या करने वाले मुख्य आरोपी वैभव सिंह ने पखवाड़े भर पूर्व ही फेसबुक प्रोफाइल पिक पर बन्दूक लिए हुए फोटो डाली थी और एक पोस्ट भी डाला था जिसमें लिखा था 'गोलियों का पित्तल भर देंगे, शरीर के हर द्वार में, कभी तो अपराध करिए, यारों के बाज़ार में'. Click here to download Rewa Riyasat's Android App





No comments

Powered by Blogger.