TRS कॉलेज के अंदर हुई छात्र की हत्या को लेकर प्रदर्शन, फिर उठी पुलिस चौकी की मांग || REWA NEWS



रीवा. टीआरएस कॉलेज में बीएससी फाइनल के छात्र नितिन सिंह की गोली मारकर हत्या को लेकर बुधवार सुबह छात्रों ने कॉलेज गेट पर प्रदर्शन किया. सभी आरोपी को पकड़ने और कॉलेज के पास पुलिस चौकी खोलने की मांग कर रहे हैं. इस दौरान छात्रों ने चक्काजाम भी कर दिया. सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां पहुंची और छात्रों को हटने की समझाइश दी. प्रदर्शन में छात्र संघ अध्यक्ष योगिता सिंह भी शामिल रही.

गौरतलब है कि ठाकुर रणमत सिंह (टीआरएस) कॉलेज में मंगलवार को बीएससी फाइनल ईयर के छात्र नितिन सिंह गहरवार (19) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. नितिन कॉलेज में घुसे गुंडों और छात्रों के विवाद को रोकने की कोशिश कर रहा था. इसी दौरान गुंडों में से एक ने विदेशी पिस्टल से फायर कर दिया. गोली सीधे उसके सीने में लगी और उसकी मौत हो गई. घटना के बाद हमलावर भागने लगे. कॉलेज छात्रों ने एक को पकड़ लिया. CCTV फुटेज में देखे TRS COLLEGE में LIVE मर्डर, जानिये कैसे आरोपियों ने दिया वारदात को अंजाम



गणित संकाय में पढ़ने वाली एक छात्रा के साथ 22 मार्च को कॉलेज के किसी छात्र ने छेड़छाड़ कर दी थी. छात्रा ने अपने ब्यॉयफ्रेंड संग्राम सिंह को कॉलेज में छात्र को समझाने के लिए बुलाया था. संग्राम सिंह ही वैभव सिंह को लेकर कॉलेज परिसर में पहुंचा था. उन्होंने कालेज के ही एक लड़के के साथ झूमाझपटी की. झूमाझपटी देख अन्य छात्रों के साथ नितिन सिंह गहरवार भी पहुंचा और विवाद शांत कराने के लिए रोका. नितिन का हस्तक्षेप वैभव बर्दाश्त नहीं कर सका उसने पिस्टल से फायर कर दिया जिससे नितिन वहीं ढेर हो गया.

विन्ध्य का सबसे बड़ा महाविद्यालय TRS COLLEGE, REWA हमेशा विवादों में घिरा रहता है, रोजाना हो रहे लड़ाई झगडे, पर लगाम लगाने के लिए कई बार पुलिस चौकी बनाने की मांग छात्र- छात्राओं द्वारा की गई. परन्तु उनकी इस मांग पर न तो महाविद्यालय प्रशासन ने गंभीरता से लिया और न ही पुलिस प्रशासन. हालात यह हैं की अपराधियों के हौंसले बुलंदी पर हैं, आए दिन कोई भी गोली चलाता है और फरार हो जाता है, वहीँ महाविद्यालय में बाहरी अपराधी भी सरलता से अन्दर घुसकर वारदात को अंजाम देकर रफू चक्कर हो जाते हैं. इस मुद्दे को रीवा रियासत डॉट कॉम ने पहले भी उठाया था, जिस पर कॉलेज प्रशासन ने चौकी बनवाने की मांग रखने का आश्वासन दिया था. 

No comments

Powered by Blogger.