यूपी की तर्ज मध्यप्रदेश में क्यों नहीं हो सकता एनकाउंटर ? | MP NEWS


रीवा ! बेखौफ होते अपराधियो से पूरा मध्यप्रदेश त्रस्त हो चुका है । रोज अपराधियो के हौसले बुलंद होते जा रहे आये दिन बहु बेटियो की इज़्ज़त लूटी जा रही है । अपराधियो तो इस हद तक गुजर गए है कि जब मन करता है तो लूटपाट मर्डर जैसे कारनामे वो पल भर में कर बैठते है । अब सवाल ये उठता है कि आखिर कम उम्र के युवकों के पास हथियार आते कहा से है ? आखिर कौन इन्हें हथियार सप्लाई करता है ये पुलिस के लिए चुनौती है |

सबसे ज्यादा अपराधियो से त्रस्त यूपी अब ऐसा हो गया है जहाँ अपराधी खुद पनाह माग रहे अपराधी खुद कह रहे मुझे जेल में डाल दो।योगी सरकार ने आखिर कर ही दिखया की पुलिस चाहे तो क्या नही कर सकती वही मध्यप्रदेश में भी यही करना होगा नही ऐसे ही अपराधी घटना को अंजाम देते रहेंगे ।

अब तो मध्यप्रदेश सरकार को भी यूपी सरकार की तरह अपराधियों की लिस्ट बनानी चाहिए और ऐसे अपराधी जिनके कम से कम पांच से ज्यादा अपराध है उनका सीधे एनकाउंटर  करना चाहिए जिससे समाज के लोग बिन डर के जी सके | 

खास रिपोर्ट : शशांक द्विवेदी 



No comments

Powered by Blogger.