15 साल की लड़की से शादी करना चाहता था सिरफिरा आशिक, मना किया तो सोते समय | CRIME NEWS


लुधियाना. शहर के बाड़ेवाल इलाके में घर में सोई 15 साल की लड़की पर बहन के देवर ने तेजाब फेंक दिया। जिससे वह 50% तक झुलस गई। लड़की के साथ सो रही उसकी मां भी जख्मी है। लड़की का कहना है कि आरोपी मनीष शादी का दबाव बना उसे परेशान कर रहा था। मंगलवार को लड़की ने उसे डांटा था। रात करीब 12 बजे मनीष ने घर में घुसकर उस पर तेजाब फेंक दिया। हमले में लड़की का चेहरा, एक बाजू गला झुलस गया है। लड़की की मां पर भी तेजाब के छींटे पड़े हैं। आरोपी को अरेस्ट कर लिया गया है। आरोपी को किया अरेस्ट...

सिरफिरे आशिक की ओर से लड़की पर तेजाब फेंकने के मामले में हॉस्पिटल में भर्ती पीड़िता से दैनिक भास्कर ने बातचीत की।

- पीड़िता ने बताया कि उसने आरोपी की मां से शिकायत की थी लेकिन उन्होंने उल्टा उसे ही डांटकर गलत बताया।

- अगर वे अपने बेटे को रोकती तो उसकी जिंदगी बर्बाद होने से बच जाती। फिलहाल थाना पीएयू पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है।

हॉस्पिटल में दाखिल पीड़िता ने बताया

- मेरी बड़ी बहन की शादी अप्रैल 2017 में हुई थी। उसके बाद से ही आरोपी लगातार मुझे छेड़ रहा था। मैंने अपनी मां को भी बता दिया था। जब भी स्कूल जाती या वापस आती तो आरोपी रास्ते में परेशान करता था।

- इसके बाद मां ने मेरी बहन को भी बताया। आरोपी की मां को भी शिकायत की थी, लेकिन आरोपी की मां उल्टा हमें ही डांट देती थी। वो कहती थी कि उनका बेटा कुछ भी नहीं करता।

- जब मेरे मां-बाप घर पर नहीं होते थे तो आरोपी हमारे घर आ जाता और छेड़छाड़ करता था। आरोपी हर बार धमकाते हुए कहता था कि अगर उससे शादी नहीं की तो वह उसे जान से मार देगा और मां को बोल कर उसकी बहन को भी वापस घर भेज देगा लेकिन मैं हर बार उसका मुकाबला करती रही।

- एक बार आरोपी ने मेरे साथ मारपीट भी की थी लेकिन मैं फिर भी नहीं डरी।

पीड़िता की मां भी झुलसी

- पीड़िता की मां ने बताया कि कई बार मैंने व मेरे पति ने अपनी बड़ी बेटी के घर जाकर आरोपी को समझाया था। पुलिस में भी शिकायत दर्ज करवाने की धमकी दी थी। जिस पर आरोपी ने कहा कि जो भी मर्जी कर लो वह शादी करवा कर ही रहेगा।

- साेमवार को जब मैं बेटी को लेकर काम पर गई तो आरोपी हमारे पीछे-पीछे ही रहा। अगले दिन फिर रास्ता रोका तो बेटी और मैंने कहा कि अगर रास्ता रोका तो पुलिस को शिकायत करेंगे।

- रात को मेरा पति दूसरे कमरे में था और मैं अपनी बेटी के साथ दूसरे कमरे में थी।

- आरोपी ने आते ही धक्के से दरवाजा खोला और बेटी पर तेजाब फेंक दिया। जिससे मैं भी झुलस गई। बेटी के चिल्लाने की आवाज सुनकर मेरे पड़ोसी भी उठ गए।

इन धाराओं में दर्ज हुई FIR

धारा 326 ए :तेजाब फेंक गंभीर नुकसान पहुंचाना : कम से 10 साल या उम्रकैद, जुर्माना जो कि पीड़िता को मिलेगा

धारा 452 : किसी के घर में जबरदस्ती घुस कर वारदात करना : कम से कम 7 साल कैद व जुर्माना

धारा 354-डी : जबरदस्ती पीछा कर परेशान करना : 3 साल की कैद व जुर्माना

No comments

Powered by Blogger.