CM शिवराज सिंह ने हार स्वीकारी, कहा हार-जीत तो लगी रहती है | MP NEWS


भोपाल। सीएम शिवराज सिंह ने मुंगावली और कोलारस में अपनी हार स्वीकार कर ली है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि साल 2013 के चुनावों में कोलारस और मुंगावली में भाजपा को बड़ी हार का सामना करना पड़ा था लेकिन इस बार पार्टी ने बेहतर प्रयास किए। अभी जितनी जानकारी मिली है उसमें भाजपा उम्मीदवार पीछे चल रहे हैं लेकिन अभी परिणाम नहीं आए हैं। हालांकि वे इतना जरूर कह गए कि चुनाव आते-जाते रहते हैं और उनमें हार-जीत भी लगी रहती है। लेकिन हमने बीजेपी के वोट प्रतिशत में सुधार किया है।
गौरतलब है कि मुंगावली और कोलारस के उपचुनाव भाजपा और कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा के चुनाव थे। इन चुनावों को शिवराज सिंह चौहान बनाम ज्योतिरादित्य सिंधिया माना जा रहा था क्योंंकि इन दोनों नेताओं ने अपनी-अपनी पार्टी के लिए पूरा जोर लगाया था। जिस लुकवासा सीट पर सीएम शिवराज ने सभा ली थी वहां से भाजपा 44 वोट से हार गई।

कोलारस की हार के लिए शिवपुरी के नेता जिम्मेदार: यशोधरा राजे
भोपाल। मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया भी चुनाव रुझानों से निराश नजर आईं। बता दें कि यशोधरा राजे सिंधिया यहां बतौर स्टार प्रचारक चुनाव को लीड कर रहीं थीं। उन्होंने अपने दम पर चुनाव जिताने की बात भी की थी। रुझानों से निराश यशोधरा ने कहा कि उन्हें बदरवास और रन्नोद मंडल से उम्मीदें हैं जहां गणना होना बाकी है। उन्होंने माना कि सेसाई और कोलरस का क्षेत्र भाजपा के लिए हमेशा से ही विरोध वाला रहा है। इसके लिए उन्होंनें शिवपुरी के नेताओ को जिम्मेदार बताया। बदरवास से भाजपा को बढ़त तो मिली लेकिन वो नाकाफी थी। 

No comments

Powered by Blogger.