शहडोल की पूजा का INDIAN WOMEN CRICKET TEAM में चयन | SPORTS NEWS

शहडोल/इंदौर। द. अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय सीनियर महिला क्रिकेट टीम में मध्यप्रदेश की तेज गेंदबाज पूजा वस्त्राकार को शामिल किया गया है। हालांकि विश्व कप खेली सिंगरौली (मप्र) की निवासी नुजहत परवीन को टीम में जगह नहीं मिली है। टीम की कमान मिताली राज संभालेंगी। शहडोल की पूजा ने हाल ही में समाप्त हुई चैलेंजर ट्रॉफी में अपनी तूफानी गेंदों से सभी को प्रभावित किया था। नुजहत का भी बतौर विकेटकीपर प्रदर्शन अच्छा रहा था, लेकिन रन नहीं बना सकीं। Click here to download Rewa Riyasat's Android App
डरा हुआ था परिवार
पूजा ने बताया, 'हर बार टीम में चयन से ठीक पहले मैं चोटिल हो जाती थी, इसलिए इस बार मेरी बहनों से मन्नत मांगी थी। दो साल पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले मुझे कमर दर्द की समस्या हुई, फिर पिछले साल विश्व कप से पहले घुटने की सर्जरी हो गई। इस बार भी चैलेंजर ट्रॉफी में अंगूठे में चोट लगी तो पूरा परिवार घबरा गया। जैसे ही चयन की खबर लगी, सभी सीधे मंदिर पहुंचे। 5 बहन और 2 भाइयों के बीच पूजा सबसे छोटी हैं।Click here to download Rewa Riyasat's Android App
कभी लड़कियों के कपड़े नहीं पहने
पूजा बॉय कट हेयर स्टाइल और भारी आवाज के चलते लड़कों सी नजर आती हैं। चर्चा करने पर कहने लगीं, 'मैं शुरू से ऐसे ही रहती हूं। दीवाली पर पापा कपड़े दिलवाते थे तो भी कभी लड़कियों की ड्रेस नहीं खरीदी। मुझे उन कपड़ों में सहज नहीं लगता। जब मैं क्रिकेट खेलने लगी तो मैंने अपने बाल भी लड़कों जैसे कटा लिए।Click here to download Rewa Riyasat's Android App
लड़कों की टीम में अकेली लड़की
पूजा ने बताया मैं कॉलोनी में लड़कों के साथ खेलती थी। फिर हम स्टेडियम जाने लगे। यहीं शहडोल संभाग के प्रशिक्षकों की नजर पड़ी और उन्होंने मुझे खेलने का मौका दिया। संभाग के सचिव अजय द्विवेदी सर ने बहुत मदद की। शुरू में करीब दो साल तक अकादमी में मैं अकेली लड़की थी। मैं लड़कों की टीम से 'ए" ग्रेड मैच खेलती हूं। पूर्व क्रिकेटर चित्रा बाजपेयी ने भी शुरुआत में मेरी काफी मदद की।Click here to download Rewa Riyasat's Android App
दिनभर देखती रही वेबसाइट
पूजा ने कहा- मुझे पता था बुधवार को टीम चुनी जाएगी, इसलिए सुबह से बार-बार बीसीसीआई की वेबसाइट देख रही थी। मोबाइल पर देखा तो फ्रेंड का बधाई संदेश था।Click here to download Rewa Riyasat's Android App

No comments

Powered by Blogger.