खंडहर में ले गए, कपड़े फाड़े, बेरहमी से पीटा, गैंगरेप किया फिर गोली .... | MP NEWS


इंदौर। भोपाल गैंगरेप जैसा एक और मामला सामने आया है। यहां आरोपी नशेड़ी बदमाश नहीं बल्कि पति का एक दोस्त और उसके साथी हैं लेकिन गैंगरेप करने का तरीका बिल्कुल भोपाल जैसा ही है। विवाहिता को किडनैप किया, काबू करने के लिए पहले पीटा फिर कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद भी महिला ने संघर्ष किया तो उसके नंगे बदन को नौंच डाला और 4 दरिंदों ने मिलकर सामूहिक बलात्कार किया। इसके बाद वो पीड़िता को गोली मारने वाले ही थे कि एक बाइक आ गई और बदमाश वहां से भाग गए। 
घटना गुरुवार देरशाम की है, लेकिन इसका खुलासा शुक्रवार को हुआ। जावरा के आईए थाना प्रभारी एम.पी. सिंह परिहार ने बताया कि रेप के बाद आरोपी उसका पर्स भी ले गए थे। घटना के बाद वह जैसे-तैसे मैन रोड तक पहुंची और लोगों से 100 रुपए उधार मांगकर अपने घर नागदा पहुंची। पत्नी को रोता देख पति ने जब उससे पूछा तो उसने पूरी बात बताई। इसके बाद पति उसे लेकर थाने पहुंचा और रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने आरोपी विक्की, कालू, धोनी उर्फ पप्पू व एक अन्य के खिलाफ धारा 376 डी व 392 में प्रकरण दर्ज किया है।

पीड़ित महिला के मुताबिक मुख्य आरोपी विक्की उसके पति का दोस्त था और वह अकसर घर आता था। उसने पहले भी महिला के साथ छेड़छाड़ की काेशिश की थी। महिला के फटकारने के बाद उसने घर आना बंद कर दिया था। आरोपी को इस बात की जानकारी थी कि महिला हर गुरुवार को टेकरी जाती है। इसी बात का फायदा उठाकर आरोपी ने महिला के साथ दरिंदगी की।

बीमारी ठीक होने पर मन्नत पूरी करने आती थी
नागदा की रहने वाली 28 वर्षीय पीड़िता को छह महीने पहले लकवा मार गया था। उसने टेकरी में इसे ठीक करने की मन्नत ली थी। कुछ समय बाद उसकी बीमारी ठीक हो गई। इसके बाद महिला हर गुरुवार हुसैन टेकरी में मत्था टेकने आती थी। गुरुवार को भी वह अकेली ही यहां आई और शाम 6 बजे रोजे में दर्शन करने के बाद वापस घर जाने के लिए निकली। 

इसी दौरान नागदा के बिरलाग्राम निवासी विक्की टेकरी परिसर में महिला से मिला। विक्की ने महिला को चाय पीने का कहा और फिर विश्वास में लेकर रोजे के पीछे जरूरी बात करने का कहकर हाथ पकड़कर ले गया। इसी दौरान चूल तरफ से अंधेरे में तीन और युवक आए। ये चारों बदमाश महिला को जबरन पकड़कर चूूल समीप खंडहर तरफ ले गए। वहां अंधेरे में दरिंदों ने हाथ-पांव पकड़कर बारी-बारी दुष्कर्म किया। इस दौरान महिला ने संघर्ष किया तो उसे काबू करने के लिए बदमाशों ने उसका सारा शरीर नौंच डाला। 

रेप के बाद उन्होंने महिला का पर्स छिन लिया। महिला अपने पति को घटनाक्रम ना बता दें इसलिए विक्की ने उसके सिर पर कट्‌टा अड़ा दिया और गोली मारने की तैयारी कर ली थी, लेकिन तभी कच्चे रास्ते से कोई बाइक सवार आता हुआ दिखा। उसे देख बदमाश महिला को बदहवास छोड़कर भाग गए।

सीएसपी बोले, पर्याप्त सबूत मिले है, दरिंदों को सजा दिलवाएंगे
सीएसपी दीपक शुक्ला ने बताया बल की कमी है। महिला डॉक्टर व महिला आरक्षक नहीं मिलने से परेशानी हुई है, लेकिन पुलिस ने पीड़िता की पूरी मदद की। लूट व गैंगरेप की धारा में प्रकरण दर्ज किया। मौके से टूटी हुई चूड़ी, माला के मोती, कपड़े समेत पर्याप्त सबूत मिले है। महिला आरोपियों को पहचानती भी है, इसलिए उन्हें गिरफ्तार कर लेंगे। शुक्रवार दोपहर में मामला जानकारी में आते ही हुसैन टेकरी चौकी प्रभारी आर.एस. नागर समेत पुलिस टीम नागदा भेज दी है। आरोपियों को सजा दिलवाएंगे। पीड़िता को शासन से राहत राशि दिलाई जाएगी।

No comments

Powered by Blogger.