अहिमक जाड़ | शीतलहर के कारण तापमान में भारी गिरावट, रात का पारा 4 डिग्री तक पहुंचा | VINDHYA NEWS

रीवा/सतना/सीधी/सिंगरौली। विन्ध्य क्षेत्र में दो दिन से शीतलहर ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। ग्रामीण अंचलों में दो दिनों से शीतलहर का प्रकोप है। जिससे अलाव ही सहारा है। शनिवार से ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में शीतलहर का प्रकोप शुरू हुआ। मौसम विभाग के अनुसार रविवार को दोपहर से ही हवा का वेग करीब 9 किलोमीटर प्रति घण्टे था। जबकि नमी करीब 50 तक थी। 

बताया जा रहा है कि जिले का अधिकतम तापमान दोपहर 12 बजे तक 22 डिग्री और रात 8 बजे 10 डिग्री के आसपास पहुंच गया था। आधी रात तक इसके 5 से 6 डिग्री तक पहुंचने की संभावना है। सिंगरौली, सीधी और सतना जिलों की भी यही स्थिति है। विन्ध्य के ग्रामीण अंचलों में भारी गिरावट होने का अनुमान लगाया जा रहा है। CLICK HERE TO DOWNLOAD REWA RIYASAT ANDROID APP


ठंड से जीवन अस्त व्यस्त
रविवार दोपहर से शीतलहर का प्रकोप इस कदर है कि लोग घरों से दोपहर तक नहीं निकल पा रहे। खास तौर से बच्चे और बुजुर्ग गर्म कपड़े के साथ साथ अलाव का सहारा लेने विवश हैं। सबसे ज्यादा ठंड असर ग्रामीण अंचल के गरीबो को झेलना पड़ रहा है जो अलाव के सहारे रात किसी तरह गुजार रहे हैं। CLICK HERE TO DOWNLOAD REWA RIYASAT ANDROID APP
घर के कम्बल से कट रही मरीजो की रात
जिले में कड़ाके की ठंड पड़ने लगी है। शीतलहर का भी प्रकोप है। जिला चिकित्सालय एवं संजय गाँधी अस्पताल में भर्ती मरीजों को घर के कम्बल के सहारे रात गुजारनी पड़ रही है। लड़खड़ाई व्यवस्था को देखकर लोग घरों से गर्म कपड़े लाने के लिए मजबूर हैं। CLICK HERE TO DOWNLOAD REWA RIYASAT ANDROID APP

No comments

Powered by Blogger.