Latest News


|||||| BREAKING NEWS ||||||

<
post-6 big-plus
arrow Read More
रीवा : सड़क पार कर रहे पांच ग्रामीणों को बेकाबू बस ने कुचला, इस तरह मची चीख-पुकार

2017-06-24 07:01:22

रीवा। बेकाबू बस ने शनिवार की दोपहर सड़क पार कर रहे पांच लोगों को कुचल दिया। हादसे में बच्चे सहित दो लोगों की मौत हो गई जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गये। घायलों को तत्काल पुलिस ने अस्पताल पहुंचा दिया। यह हृदय विदारक रीवा-सीधी मार्ग में बदरांव के समीप हुआ। पुलिस ने चालक को हिरासत में ले लिया है।

परिहार ट्रेवल्स की यात्री बस क्र. एमपी 17 पी 0509 शनिवार की दोपहर सीधी से सवारी लेकर रीवा आ रही थी। बस जैसे ही सिटी कोतवाली थाने के बदरांव के समीप पहुंची।  

सभी लोग गंभीर रूप से घायल
तभी सड़क पार कर रहे सिक्योरिटी गार्ड अवतार अख्तर पिता गुल मोहम्मद 35 वर्ष निवासी बिछिया को बस ने कुचल दिया जिसमें सिक्योरिटी गार्ड गंभीर रूप से घायल हो गया। इस दौरान आरोपी चालक भागने के चक्कर में बस को आगे बढ़ा दिया और सामने सड़क पार कर रहे पांच चार लोगों को कुचल दिया जिसमें सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गये।

अफरा-तफरी का माहौल 
घटना के बाद अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस ने तत्काल वाहनों की व्यवस्था कर घायलों को उपचार के लिए संजय गांधी अस्पताल पहुंचाया। जहां सिक्योरिटी गार्ड व आकाश पिता राजेन्द्र कुमार 12 वर्ष निवासी खुटेही मौत हो गई। 

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज 
वहीं ईशू पिता राजभान 10 वर्ष निवासी सेमरी थाना सेमरिया, मानवती पति रामचरित कुशवाहा 45 वर्ष निवासी बछरा, आरती कुशवाहा पति राजभान 29 वर्ष की हालत नाजुक बनी हुई है जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने बस को जब्त कर आरोपी चालक को हिरासत में ले लिया है। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है। मृत युवक निर्माणाधीन कालोनी में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था और वह चाय पीने जाने के लिए सड़क पार कर रहा था। 

बहनों के सामने भाई ने दमतोड़ा
इस हादसे में गंभीर रूप से घायल आकाश कुशवाहा ने बहनों के सामने दमतोड़ दिया। बच्चा अपनी बहन के यहां आया था और शनिवार को बहन के साथ वापस जा रहा था। सड़क पार करते समय काल बनकर आई बस ने उसे चपेट में ले लिया। अस्पताल में बच्चे की बहने घंटों बिलखती रही जिन्होंने माहौल को गमहीन बना दिया। 

बस ने सड़क पार कर रहे पांच लोगों को कुचल दिया था जिसमें दो लोगों की मौत हो गई। बस को जब्त कर चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। जांच के बाद ही घटना के वास्तविक कारण सामने आयेंगे। 
आदित्य प्रताप सिंह, टीआई सिटी कोतवाली 

post-6 big-plus
arrow Read More
11 जुलाई से रीवा-बिलासपुर पैसेंजर बंद

2017-06-24 06:58:26

बिलासपुर. बिलासपुर-रीवा-बिलासपुर पैसेंजर 11 जुलाई से हमेशा के लिए एक्सप्रेस बन जाएगी। एक्सप्रेस बनने के बाद बिलासपुर-रींवा के बीच सफर का समय करीब 40 मिनट कम हो जाएगा। लेकिन इसके लिए यात्रियों को 3 गुना ज्यादा रकम का भुगतान करना पड़ेगा।

58229/58230 बिलासपुर-रीवा-बिलासपुर पैसेंजर रोजाना बिलासपुर से शाम 5.35 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 6.40 बजे रीवा पहुंच जाती है। बिलासपुर-रींवा के बीच 467 किमी का सफर तय करने में ट्रेन को 12.45 घंटे लगते हैं। फास्ट पैसेंजर होने के चलते इसमें समय भी कम लगता है लेकिन अब रेल प्रशासन ने रीवा पैसेंजर को एक्सप्रेस बनाकर चलाने का फैसला लिया है। इसके लिए सभी तैयारी पूरी कर ली है।

परिचालन विभाग से भी स्वीकृति मिल गई है। रीवा-पैसेंजर को 11 जुलाई से हमेशा के लिए एक्सप्रेस बनाकर चलाया जाएगा। बिलासपुर से रीवा पहुंचने में करीब 40 मिनट की बचत होगी। लेकिन इसके लिए यात्रियों को 3 गुना ज्यादा किराया देना पड़ेगा। पैसेंजर में बिलासपुर से रीवा तक आरक्षण टिकट का किराया 175 रुपय हैं। एक्सप्रेस बनने के बाद 525 रुपए किराया लगेगा। इससे रेलवे की आमदनी में इजाफा होगा। 

गरीबों को पड़ेगा आर्थिक बोझ : एक्सपे्रस बनने के बाद टे्रन का किराया तीन गुना बढ़ जाएगा। ऐसे में गरीब यात्रियों को इसका बोझ पड़ेगा। पैसेंजर टे्रनों को गरीबों की गाड़ी माना जाता है। वहीं एक्सप्रेस टे्रनों में किराया ज्यादा लगने से गरीब यात्री सफर नहीं करते हैं।

ठहराव का समय होगा कम : रीवा पैसेंजर के 11 जुलाई से एक्सप्रेस बनने के बाद कुछ स्टेशनों में ठहराव का समय कम किया जा सकता है। कुछ स्टेशनों में टे्रन मात्र 5 मिनट के लिए रुकेगी ताकि सफर में लगने वाले समय को कम किया जा सके।

40 मिनट पहले पहुंची एक्सप्रेस : रीव पैसेंजर को एक्सप्रेस टे्रन बनाने से अपने गतंव्य स्थान पर 40 मिनट पहले पहुंच जाएगी। जिससे यात्रियों को राहत तो मिलेगी, लेकिन वर्तमान किराए से तीन गुना अधिक किराए देने से जेब जरुर ही ढीली हो जाएगी। बारिश व ठंड के मौसम में गाडिय़ों का परिचालन प्रभावित होता है। जिससे गाडिय़ों के विलंब से पहुंचने सकने की संभावना होगी।

  • रीवा : सड़क पार कर रहे पांच ग्रामीणों को बेकाबू बस ने कुचला, इस तरह मची चीख-पुकार
  • 11 जुलाई से रीवा-बिलासपुर पैसेंजर बंद
  • रीवा: प्लाजा के कैमरे में कैद हुआ कातिल का चेहरा ..
  • सीधी/रीवा : DEO कार्यालय का लेखापाल 7 हजार की रिश्वत लेते पकडाया ...
  • रीवा : कलेक्टर ने ADM को सौंपा प्रभार
  • रीवा : मॉडल के अनुरूप पूरा हो हाईवे का निर्माण कार्य
  • रीवा : जानिए कौन कहां का बनाया गया नया कलेक्टर, सिर्फ एक क्लिक पर
  • सतना : बैलेंस डलवाने आई युवती को दिल दे बैठे आशिक ने कर दी ऐसी घटना, जिसने भी सुना सहम गया दिल
  • प्रीति होगी रीवा कलेक्टर, सौरभ को रीवा ननि आयुक्त का दायित्व, बड़े पैमाने पर हुए MP में IAS अफसरों के तबादले
  • रीवा : एक ही परिवार पर नगर निगम का चाबुक, तोडऩे पड़े अवैध निर्माण
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    कश्मीर में डीएसपी की हत्या के बाद नार्थ श्रीनगर के SP को हटाया

    2017-06-24 10:45:11

    श्रीनगर। गुरुवार की रात श्रीनगर में जामिया मस्जिद के बाहर डीएसपी मोहम्मद अयुब पंडित की पीट-पीटकर हत्या को लेकर चारों तरफ आलोचनाएं हो रही है। इस बीच सरकार ने कार्रवाई करते हुए नॉर्थ कश्मीर के एसपी सजाक खलिक भट्ट को हटा दिया गया है।

    बता दें कि गुरुवार की रात श्रीनगर के नोहट्टा में मौजूद जामिया मस्जिद के बाहर लोगों ने एक शख्स को तस्वीरें लेते देखा। इसके बाद उसे पकड़ने दौड़े। खुद के बचाव में उसने फायरिंग कर दी जिसमें तीन लोग जख्मी हो गए। इसके बाद लोगों ने उस शख्स को पकड़कर इतना पीटा की उसकी मौत हो गई। घटना के बाद मृतक की पहचान डीएसपी अयुब के रूप में हुई है।

    डीएसपी की इस तरह हत्या के बाद मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि पुलिस बड़े धैर्य के साथ काम कर रही है और लोग उनके धैर्य की परीक्षा ना लें। यह बेहद शर्मनाक घटना थी। वहीं पूरे मामले को लेकर कई अन्य राजनीतिक दलों की भी प्रतिक्रिया आई है।

     

     

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    योगी सरकार को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दिया करारा झटका

    2017-06-23 10:58:57

    लखनऊ। इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच से आज उत्तर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार को तगड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने शिया वक्फ बोर्ड के हटाए गए सभी छह सदस्यों को बहाल कर दिया है।

    प्रदेश में शिया वक्फ बोर्ड में घोटाले की शिकायत के बाद प्रदेश सरकार ने छह सदस्यों को बोर्ड से हटा दिया था। इसके बाद हटाए गए सभी सदस्य हाई कोर्ट पहुंचे थे। इस फैसले से योगी सरकार को बड़ा झटका लगा है।

    प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद शिया-सुन्नी वक्फ बोर्ड में होने वाली हेरा-फेरी सामने आई थी। जिसके बाद मंत्री मोहसिन रजा ने इस मामले को उठाया था। वक्फ मंत्री ने भी बोर्ड में हेरा-फेरी की बात कही और मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था। 

    जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वक्फ बोर्ड के छह सदस्यों को हटा दिया था। वक्फ बोर्ड में संपत्तियों की हेरा-फेरी को लेकर मुख्यमंत्री योगी काफी सख्त रुख अपना चुके थे।

    इसी क्रम में छह सदस्यों राज्यसभा सदस्य अख्तर हसन रिजवी, मुरादाबाद के सैय्यद वली हैदर, मुजफ्फरनगर की अफशां जैदी, बरेली के सय्यद अजीम हुसैन, नजमुल हसन रिजवी व आलिमा जैदी को पद से हटा दिया गया था।

     

     

  • कश्मीर में डीएसपी की हत्या के बाद नार्थ श्रीनगर के SP को हटाया
  • योगी सरकार को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दिया करारा झटका
  • NSG में भारतीय सदस्यता के मामले में चीन का अभी भी इंकार
  • राष्ट्रपति चुनाव: लेफ्ट-ममता के फेर में फंसीं सोनिया गांधी, खा गईं मोदी-शाह से मात!
  • सरकार को खूब रुला रही प्याज, कामकाज छोड़ ढुलाई में लगे सारे अफसर
  • जम्मू-कश्मीरः सेना को बड़ी कामयाबी, पुलवामा लश्कर के 3 आतंकी ढेर
  • सरकार दे रही नया मौका , बदले जाएंगे पुराने नोट
  • जीएसटी का असर- हर तरह का कपड़ा हो जाएगा महंगा
  • NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार बने कोविंद; चुने गए तो बनेगा यह रिकॉर्ड
  • UP और महाराष्ट्र के बाद पंजाब में भी किसानों का कर्ज माफ करने का एलान
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    MP | COLLEGE में आॅनलाइन फीस जमा करने की तारीख बढ़ाई

    2017-06-24 04:05:05

    BHOPAL: उच्च शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालय में स्नातक कक्षा के लिये ऑनलाइन काउंसलिंग प्रक्रिया के प्रथम चरण की काउंसलिंग फीस जमा करने की अंतिम तिथि 23 जून को संशोधित करते हुए 28 जून कर दी गयी है। प्रथम चरण की काउंसलिंग में जिन विद्यार्थियों को महाविद्यालयों का आवंटन किया गया है, वे अपनी सुविधानुसार 28 जून तक नियमानुसार फीस जमा कर सकते हैं। विभाग द्वारा यह भी स्पष्ट किया गया है कि 20 जून को प्रवेश हेतु जारी महाविद्यालयों की आवंटन सूची एवं अलॉटमेंट लेटर 28 जून तक वैध रहेंगे। जो भी छात्र 28 जून तक फीस जमा करेंगे, उन्हें प्रवेश दिया जायेगा। फीस जमा करने के लिये विभागीय पोर्टल पर online payment की सुचारू सुविधा उपलब्ध है।

    कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले ध्यान रखें

    किसी भी स्टूडेंट के जीवन में हायर सेकेंडरी पास करने के बाद सबसे महत्वपूर्ण निर्णय होता है कि उसे किस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहिए। अक्सर लुभावने विज्ञापन, सुनी-सुनाई बातों और दूसरों की देखा-देखी बच्चे और अभिभावक गलत कॉलेज का चुनाव कर लेते हैं जो स्टूडेंट के करियर के लिए बुरा साबित होता है। भावी स्टूडेंट होने के नाते आप जो सबसे बड़ी भूल कर सकते हैं, वह है आवेदन से पहले पर्याप्त रिसर्च नहीं करना।

     

    लेकिन यह कैसे तय होगा कि आपका चयन ठीक है या नहीं

    ग्वालियर के आलोक पराग शर्मा की मिसाल लीजिए, जिन्होंने साल 2011 में कानपुर की एक यूनिवर्सिटी में इसलिए एमबीए में प्रवेश लिया क्योंकि उनसे कहा गया था कि यहां प्लेसमेंट अच्छा है। आलोक की जान-पहचान के कई और छात्रों ने भी वहाँ एडमिशन ले लिया, हाल ही में यूजीसी ने इस यूनिवर्सिटी को फर्ज़ी घोषित कर दिया, अब इन छात्रों का भविष्य अधर में है।

     

    इसी तरह, किसी संस्थान की मौजूदा रैंकिंग एक ज़रूरी जानकारी है, लेकिन सिर्फ़ इसी आधार पर दाख़िले का फ़ैसला नहीं करना चाहिए। याद रखिए, इस बात की कोई गारंटी नहीं कि जिस कॉलेज में आप प्रवेश लेते हैं, उसकी रैंकिंग आपको सफलता दिलाएगी। एक्सपर्ट यह भी कहते हैं कि स्टूडेंट और अभिभावकों को ध्यान रखना चाहिए कि कॉलेज तलाश करने की प्रक्रिया में अधिक ध्यान छात्र की ज़रूरत, उसकी योग्यता और कमज़ोरियों पर देना चाहिए।

     

    क्या है ‘छात्र केंद्रित’ प्रक्रिया?

    हर छात्र अलग होता है, उसकी सोच, प्राथमिकता और व्यक्तित्व सब कुछ अलग होता है.

    सबसे पहले छात्र को यह तय करना होगा कि उसका लक्ष्य क्या है, चुने हुए कॉलेज में कौन से कोर्स चल रहे हैं? क्या उनके माध्यम से लक्ष्य को हासिल किया भी जा सकता है?

    कॉलेज में स्टडी मटेरियल, हॉस्टल, सुरक्षा, खानपान, ट्रांसपोर्टेशन और रिसर्च वगैरह की सुविधाएँ किस प्रकार की हैं, यह भी देखना ज़रूरी है कि कॉलेज किस क्षेत्र में है. कुल मिलाकर कॉलेज में स्टूडेंट के लिए सुरक्षा, समानता और आरामदेह माहौल होना ज़रूरी है.

     

    कॉलेज चुनने की शुरुआत करते समय इन बातों का विशेष ध्यान रखें :

    पूरी तरह से पता करें कि जिस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले रहे हैं वो मान्यता प्राप्त है या नहीं.

    कॉलेज में एडमिशन का कट ऑफ परसेंटाइल

    कॉलेज में छात्रों की संख्या और उनके बैकग्राउंड के बारे में समझें.

    कॉलेज की वेबसाइट के अलावा उसकी सोशल मीडिया प्रजेंस पर भी ध्यान दें, जहाँ से आपको पता चलेगा कि वहाँ के छात्र किन चीज़ों से खुश या नाख़ुश हैं.

    रहने के इंतजाम क्या हैं- क्या ये मुख्य तौर पर आवासीय या नियमित आने-जाने वालों का कैंपस है.

    फैकल्टी की विस्तृत पड़ताल करें, योग्य शिक्षकों के बिना बात नहीं बनेगी.

    मौजूदा छात्रों और हाल ही में ग्रेजुएट हुए लोगों से बातचीत ज़रूर करें, इसमें पूर्व छात्रों के टेस्टिमोनियल और इंटरनेट पर मौजूद स्टूडेंट फोरम बेहद मददगार होते हैं.

    पिछले 5 वर्षों का प्लेसमेंट रिकॉर्ड और इंटर्नशिप देने वाली कंपनियों की लिस्ट की जानकारी हासिल करें.

    कैंपस के बारे में पता करें, हो सके तो खुद जाकर या वर्चुअल टूर की मदद से जानकारी लें.

     

    अभिभावकों के लिए याद रखने वाली बातें

    1. संबंधित कॉलेज में दी जाने वाली स्कॉलरशिप के बारे में भी पता करें.

    2. कॉलेज में पढ़ाई के लिए मिलने वाले एजुकेशन लोन की जानकारी भी पता करें. ध्यान रखें कि एजुकेशन लोन सिर्फ उन्हीं कॉलेजों को दिया जाता है जो मान्यता प्राप्त होते हैं अथवा उनकी साख होती है.

    3. यदि कॉलेज शहर के बाहर है तो शहर के बारे में पता करें और यात्रा संबंधी रिजर्वेशन कराएं.

     

    फर्जी यूनिवर्सिटी से बचें

    अक्सर छात्र MBA,BE जैसी बड़ी डिग्री की चाहत में बिना अधिक जांच-पड़ताल किए किसी ऐसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लेते हैं जिनकी डिग्री की मान्यता नहीं होती.

    ऐसी यूनिवर्सिटी के शिकार छोटे कस्बों के छात्र ज़्यादा होते हैं जो अक्सर दूसरे राज्यों की ऐसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लेते हैं जिनकी मान्यता ही नहीं है, ऐसे छात्रों और उनके अभिभावकों को जब तक सच्चाई का पता चलता है, तब तक बहुत देर हो जाती है.

    पिछले 10 सालों में करीब 90 हज़ार छात्र फर्जी यूनिवर्सिटी के शिकार बने हैं, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी कोशिश करता है कि स्टूडेंट इन फर्जी यूनिवर्सिटीज़ से बचें. यूजीसी ने इन फर्जी यूनिवर्सिटियों की सूची अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित की है.

    हमारे देश में कुल 712 ऐसी यूनिवर्सिटियाँ हैं जिन्हें यूजीसी की मान्यता प्राप्त है, इनमें 330 स्टेट यूनिवर्सिटी हैं, वहीं 128 यूनिवर्सिटियों को डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा प्राप्त है. सेंट्रल यूनिवर्सिटी के तौर पर 46 यूनिवर्सिटियाँ जानी जाती हैं. प्राइवेट यूनिवर्सिटियों की संख्या 208 है. इन सभी की जानकारी यूजीसी की वेबसाइट पर दी गई है.

    आप जो भी फैसला लें और इस बारे में गहराई से पड़ताल करें और सोचें क्योंकि एक बार दाख़िला ले लेने के बाद वक़्त और पैसे की बर्बादी को रोका नहीं जा सकता.

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    MP: तहसीलदार के 249, नायब तहसीलदार के 947 और पटवारी के 7398 पदों पर भर्ती जल्द

    2017-06-24 03:19:13

    भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजस्व विभाग की समीक्षा बैठक में तहसीलदार, नायब तहसीलदार के कॉडर रिव्यू का प्रस्ताव स्वीकृत कर जल्द इनकी भर्ती की कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने पटवारी के नये एवं रिक्त पद भी शीध्र भरने के निर्देश दिये। बैठक में राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री उमाशंकर गुप्ता उपस्थित थे।

    कॉडर रिव्यू में वर्तमान जरूरतों के मद्देनजर तहसीलदार के 249 और नायब तहसीलदार के 947 नये पद प्रस्तावित किए गए हैं। पटवारी के 7398 नये पद स्वीकृत किये जा चुके हैं। बैठक में बताया गया कि नायब तहसीलदार के 294 पद की भर्ती मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा की जा रही है। तहसीलदार के अभी 519, नायब तहसीलदार के 620 और पटवारी के 11 हजार 622 पद स्वीकृत हैं।

  • MP | COLLEGE में आॅनलाइन फीस जमा करने की तारीख बढ़ाई
  • MP: तहसीलदार के 249, नायब तहसीलदार के 947 और पटवारी के 7398 पदों पर भर्ती जल्द
  • अतिथि शिक्षकों को फायदा देने टल रही 31 हजार संविदा शिक्षकों की भर्ती
  • प्रदेश में 10 अनुसूचित जाति गर्ल्स हॉस्टल स्वीकृत
  • MP : शिवराज के इस मंत्री ने सिनेमाघर के काउंटर से बेचे टिकट
  • एमपी से ये शहर स्मार्ट सिटी के लिए घोषित...
  • खुशखबरी : MP में ढाई सौ तहसीलदार, साढ़े नौ सौ नायब तहसीलदार और नौ हजार पटवारियों की होगी भर्ती
  • घाटी में पहली बार चला रहा था बस, ड्राइवर सहित 11 घायल पढ़ें खबर
  • घाटी में पहली बार चला रहा था बस, ड्राइवर सहित 11 घायल, पढ़ें खबर
  • प्रोमोटी की वजाय शिवराज सरकार ने जताया सीधी भर्ती वाले युवा आईएएसों पर भरोसा
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    सनी और पूनम को भी मात देती हैं टीवी की ये हसीनाएं

    2017-06-24 07:10:06

    मुंबई: बॉलीवुड की तरह अब टेलीविजन की दुनिया भी पूरी बदल गई है और यह बॉलीवुड को पूरी तरह टक्कर दे रही है। टीवी सीरियलस की एेसी कई एक्ट्रैसेस हैं जो अपने बोल्ड लुक के लिए सोशल साइट पर काफी चर्चा में रहती हैं। इन एक्ट्रैसेस ने अपनी हॉट अदाओं से सबको अपना दीवाना बनाया हुआ है। आज हम आपको उन्ही एक्ट्रैसेस के बारे में बताने जा रहें हें जिन्होंने कई हॉट बॉलीवुड की खूबसूरत एक्ट्रैसेस को पीछे कर अपनी जगह बनाई है।

    PunjabKesari

    निया शर्मा

    टीवी शो 'जमाई राजा' से कई सुर्खियां बटोरने वालीं निया शर्मा अक्सर अपने बोल्ड फोटोज को लेकर सुर्खियों में रहती हैं। इन दिनों निया फिल्म मेकर विक्रम भट्ट की वेब सीरीज 'ट्विस्टेड' में नजर आ रही हैं। निया को एशिया की तीसरी सेक्सी महिला का खिताब मिला चुका है।

    PunjabKesari

    मौनी रॉय

    नागिन सीरियल में काम करने वाली यह एक्ट्रैस भी बेहद हॉट है। मौनी ने सोशल साइट पर इतनी पॉपुलर हैं कि कई लोग उनके दीवाने हैं। डेढ़ मीलियन से भी ज्यादा लोग इंस्टाग्राम पर मौनी को फोलो करते हैं।

    PunjabKesari

    रुबीना दिलाइक

    टीवी एक्ट्रैस रुबीना दिलाइक भी इंस्टाग्राम पर अपनी फोटोज को लेकर सुर्खियों में रहती हैं। रुबीना भी बेहद हॉट और ग्लैमरस लुक हैं। वह काफी चुलबुली हैं लेकिन इसके साथ-साथ वह अपनी बोल्ड फोटोज शेयर करने में पीछे नहीं रहती है। इस हसीना के भी लाखों लोग दीवाने हैं। रुबीना की एक झलक पाने के लिए इनके फैंस बेकरार रहते हैं।

    PunjabKesari

    अनीता हस्नंदानी

    अनीता को टीवी सीरियल की सबसे सुंदर एक्ट्रैस माना गया है। अनीता अपने ब्लाउज़ और साडि़यों के लिए खूब चर्चा में रहती हैं। वह इनको पहनकर बेहद हॉट लगती हैं।

    PunjabKesari

    सोनारिका भदौरिया

    टीवी शो 'देवों के देव महादेव' की 'पार्वती' का किरदार निभाने वाली सोनारिका भदौरिया भी बहुत ही टैलेंटिड हैं। लोगों को सोनारिका का बिकनी अवतार भी बहुत भाता है। वह इंस्टाग्राम पर काफी एक्टिव रहती हैं और अपनी हॉट लुक फोटोज अपने फैंस के साथ शेयर करती रहती हैं।

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    इस तरह करते हैं रणबीर कैट के सोशल अकाउंट की जासूसी

    2017-06-24 07:09:14

    मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रैस कैटरीना कैफ और एक्टर रणबीर कपूर ब्रेकअप के बाद पहली बार "जग्गा जासूस" में एक-साथ वापसी की हैं। सोशल साइट पर इन दोनों की अपीयरैंस की बात करें तो कैटरीना कैफ ने इसी साल फेसबुक और इंस्टाग्राम ज्वाइन किया है। वहीं रणबीर अब तक किसी भी सोशल मीडिया पर नहीं है। फिर भी रणबीर, कैट के सोशल अकाउंटस पर नजर रखते हैं। 

    खबरों की मानें तो रणबीर कपूर ने सोशल मीडिया पर कई फेक अकाउंट बना रखे हैं इस पर रणबीर का कहना है कि - "हां मैं फोटो शेयरिंग साइट पर एक्टिव हूं। मैं एक स्टॉकर हूं जो कि इंडस्ट्री में हो रही चीजों के बारे में लगातार जानकारी रखता हूं। कैटरीना कैफ का तीसरा फॉलोअर था जब उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपना अकाउंट बनाया। मैंने उन्हें बताया कि कौन सी तस्वीरें पोस्ट की जानी चाहिए, हालांकि उन्होंने मुझे क्रेडिट देने से इन्कार कर दिया। उनकी हर पोस्ट के बाद मैंने उन्हें कॉल करके उस तस्वीर को शेयर किए जाने का कारण पूछा यदि मैं कभी आधिकारिक रूप से सोशल मीडिया पर आया"

  • सनी और पूनम को भी मात देती हैं टीवी की ये हसीनाएं
  • इस तरह करते हैं रणबीर कैट के सोशल अकाउंट की जासूसी
  • बीएमसी ने तोड़ दिया अरशद वारसी का बंगला
  • करन जौहर की पार्टी में पहुंचे बाहुबली, वरुण ने कटप्पा बन ऐसे मारी तलवार
  • करन जौहर की पार्टी में पहुंचे बाहुबली, वरुण ने कटप्पा बन ऐसे मारी तलवार
  • भारत में बैन हुई ये बॉलीवुड की फिल्में, जानिए क्या थी वजह.
  • सबसे अमीर सितारों की लिस्ट में शाहरुख़ टाॅप पर
  • राबता को आठवें दिन मिले सिर्फ 25 लाख, निर्माताओं को बड़ा नुकसान
  • एक्ट्रेस का गैंगरेप कर फेंका था सड़क पर, बेटे ने बताई थी उस रात की कहानी
  • डायरेक्टर की पार्टी में पहुंचे शाहरुख, दीपिका-रणबीर और ये सेलेब्स भी दिखे
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    चैंपियंस ट्राफी में फ्लॉप रहे श्रीलंका के कोच ने दिया इस्तीफा

    2017-06-24 07:07:43

    कोलंबो:  आईसीसी चैंपियंस ट्राफी में फ्लॉप साबित हुई श्रीलंका के कोच ग्राहम फोर्ड ने क्रिकेट टीम के साथ अपने दूसरे कार्यकाल को 15 महीने के बाद ही छोड़ते हुए पद से शनिवार को इस्तीफा दे दिया।  

    दक्षिण अफ्रीकी फोर्ड ने वर्ष 2012 से 2014 के बीच श्रीलंका के लिए कोचिंग की थी और गत वर्ष फरवरी में दूसरी बार कोच पद पर टीम के साथ जुड़े थे। उनका कार्यकाल 2019 विश्वकप तक के लिए था लेकिन उन्होंने 15 महीने के बाद ही पद छोड़ दिया है।  56 वर्षीय फोर्ड के मार्गदर्शन में श्रीलंका ने ट्ंवटी 20 और टैस्ट में आस्ट्रेलिया पर यादगार जीत दर्ज की थी लेकिन इस वर्ष टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा और पहली बार उसे बंगलादेश से तथा दक्षिण अफ्रीका से सीरीज में व्हाइटवॉश झेलनी पड़ी। श्रीलंका चैंपियंस ट्राफी के सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच सकी थी।  

    श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष थिलांगा सुमाथिपाला ने कहा कि हम फोर्ड को उनके श्रीलंका क्रिकेट के लिए योगदान के लिए धन्यवाद करना चाहते हैं। हमें उन्हें जाते देखने का दुख है लेकिन यह निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया है। फोर्ड ने अपना इस्तीफा श्रीलंका के जिम्बाब्वे दौरे से पहले दिया है जहां टीम को 5 वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। 

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    मैच के बारिश में धुलते ही भारतीय टीम के नाम दर्ज हुआ अनोखा रिकॉर्ड

    2017-06-24 07:07:07

    नई दिल्ली: विंडीज के खिलाफ चल रही 5 वनडे मैचों की सीरीज का पहला मैच भले ही बारिश की भेंट चड़ गया हो, लेकिन बावजूद इसके भारतीय टीम के नाम अनोखा रिकॉर्ड दर्ज हो गया। भारतीय टीम यह 40वां वनडे मैच था, जिसका परिणाम नहीं निकला। इससे पहले तक वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा बेनतीजा मुकाबले न्यूजीलैंड के नाम दर्ज थे। 

    शुक्रवार को पोर्ट ऑफ स्पेन में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 39.2 ओवर में 199/3 रन बना लिए थे, लेकिन इसके बाद बारिश ने सारा खेल बिगाड़ दिया। मैच दोबारा शुरू नहीं हो सका, लेकिन बेनतीजा रहे मैच में भी भारतीय टीम ने रिकॉर्ड बना डाला।

    वो 5 टीमें जिनके मैचों का नहीं निकला परिणाम 
    भारत- 40 मैच रहे बेनतीजा
    न्यूजीलैंड- 39 मैच रहे बेनतीजा
    श्रीलंका- 36 मैच रहे बेनतीजा
    ऑस्ट्रेलिया- 34 मैच रहे बेनतीजा
    वेस्टइंडीज- 26 मैच रहे बेनतीजा

  • चैंपियंस ट्राफी में फ्लॉप रहे श्रीलंका के कोच ने दिया इस्तीफा
  • मैच के बारिश में धुलते ही भारतीय टीम के नाम दर्ज हुआ अनोखा रिकॉर्ड
  • कोहली-कुंबले विवाद: गुस्साए फैंस बोले- विराट को हटाओ धोनी को वापस लाओ
  • कोहली-कुंबले विवाद का असर, धोनी को फिर कप्तानी सौंपने की उठी मांग
  • PAK ने पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी जीती, भारत की 39 साल की सबसे बड़ी हार
  • भारत ने PAK को 7-1 से हराया, तलविंदर-हरमनप्रीत ने किए 2-2 गोल
  • धड़कनें बढ़ाने वाला है भारत-पाक मैच, ज्योतिष बोले- जीतेगी टीम इंडिया
  • वर्ल्ड हॉकी लीग सेमीफाइनल्स में भारत का विजयी आगाज
  • हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न के लिए खेल मंत्रालय का PMO को पत्र
  • भारत का पलड़ा भारी, लेकिन बचकर रहना होगा पाक से
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    आधे मिनट में दूर होगा माइग्रेन का दर्द, पक्का और असरदार नुस्खा

    2017-06-24 06:52:52

    माइग्रेन यानी सिर दर्द। यह दर्द अचानक से सिर के आधे भाग में होने लगता है, जिस वजह से रोगी को काफी मुश्किल की घड़ी से गुजरना पड़ता है। कई बार तो माइग्रेन का दर्द कुछ ही घंटों में ठीक हो जाता है लेकिन कई बार 2-3 दिन लगातार होता रहता है। बिजी लाइफ और भागदौड़ भरी जिंदगी में ज्यादातर लोग माइग्रेन के दर्द से परेशान रहते है। माइग्रेन से बचने के लिए लोग बहुत सी दवाइयों का सहारा लेते है, जिससे कोई फर्क नहीं पड़ता। ऐसे में आप कुछ घरेलू तरीके अपनाकर इस दर्द से राहत पा सकते है।  

     

    माइग्रेन के कारण

    - पर्याप्त नींद न लेना 
    - ब्लड प्रैशर
    - तनाव
    - दर्दनिवारक दवाइयों का सेवन अन्य आदि

    माइग्रेन से बचने के घरेलू तरीके

    1. सरसों का तेल 

    माइग्रेन का दर्द होने पर सरसों के तेल को हल्का गर्म करके सिर की मालिश करें। सिर के साथ-साथ कंधों पैरो और गर्दन की भी मसाज करें। इससे काफी राहत मिलेगी। 

    2. गाय का घी

    रोज घी की 2 बूंदे नाक में डालें। ऐसा दिन में 2 बार करें। इससे माइग्रेन का दर्द दूर हो जाएगा। 

    3. सेब 

    अगर आप माइग्रेन के दर्द को जड़ से खत्म करना चाहते है तो रोज सुबह खाली पेट 1 सेब का सेवन जरूर करें। 

    4. कपूर 

    गाय के घी में कपूर डालकर गर्म कर लें। इस तेल से दर्द वाले हिस्से की मालिश करें। इससे तुरंत राहत मिलेगी। 

    5. बंदगोभी की पत्तियां 

    बंदगोभी की पत्तियों को पीस कर पेस्ट बना लें। फिर इस पेस्ट को सिर पर लगाएं। इसस दर्द दूर होगा। 

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    इन 5 कारणों से शादीशुदा लोग करते हैं लव अफेयर

    2017-06-24 06:48:48

    अक्सर देखा जाता है कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों का शादी के बाद एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर होता है। नवदंपति विवाह के समय पवित्र अग्नि के फेरे लेते हुए सात जन्मों तक साथ निभाने का वादा करते हैं लेकिन फिर भी कुछ विवाहित पुरुष एक्सट्रा मैरिटल अफेयर्स में रुचि लेने लगते हैं। आज के समय में कितनी ही शादियां सिर्फ इसी वजह से ही टूट रही हैं। शादी के बाद अफेयर करने के ये कारण हैं।


    1. रोक-टोक
    पुरुष हर काम अपनी मर्जी से करना पसंद करते हैं। उन्हें किसी का रोकना-टोकना अच्छा नहीं लगता। पत्नी के बार-बार पूछे गए सवाल उन्हें परेशान कर देते हैं लेकिन गर्लफ्रेंड के साथ एेसी कोई परेशानी नहींं होती। एेसे में पुरुष गर्लफ्रेंड के साथ समय बिताना पसंद करते हैं। 

    2. जिम्मेंदारी 
    पुरुष को अपनी गर्लफ्रेंड से हर खुशी मिल जाती है और कोई जिम्मेंदारी भी उठानी नहीं पड़ती लेकिन बीवी को हर बात की खबर देनी पड़ती है। एेसे में पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड की तरफ आकर्षित हो जाते हैं।

    3. आजादी
    लड़के बाहर घूमना पसंद करते हैं और चाहते हैं कि उनकी पत्नी भी उनका साथ दे लेकिन घर की जिम्मेंदारी होने के कारण वो अपने पती के साथ बाहर घूमने नहीं जा पाती। एेसे में वो गर्लफ्रेंड के साथ घूमना पसंद करते हैं। 

    4. अहंकार 
    कई बार पुरुष अपने अहंकार को संतुष्ट करने के लिए दूसरी महिलाओं के प्रति आकर्षित हो जाते हैं। वो अपने पार्टनर को दिखाना चाहते हैं कि वे महिलाओं को कितनी आसानी से अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं।

    5. नजर रखना
    कई महिलाओं को अपने पति पर नजर रखने की आदत होती है और वो अपने पार्टनर से जुड़ी हर जानकारी रखना चाहती हैं। एेसी बातें लड़कों को पसंद नहीं आती इसलिए उनका झुकाव आपनी गर्लफ्रेंड की तरफ हो जाता है।

  • आधे मिनट में दूर होगा माइग्रेन का दर्द, पक्का और असरदार नुस्खा
  • इन 5 कारणों से शादीशुदा लोग करते हैं लव अफेयर
  • अपनी पार्टनर की ये आदतें पसंद नहीं करते लड़के
  • शाही खजाने के लिए इंदिरा गांधी ने खुदवा दिया था किला, पाकिस्तान ने भी मांगा था अपना हिस्सा
  • गर्मी में फोन हो जाते हैं स्लो और जल्दी खत्म होती है बैट्री, तो अपनाएं ये टिप्स
  • इन 5 तरह के लड़कों को लड़कियां कभी न करें Date
  • पांच बच्चो की मां को हुआ फल बेचने वाले 22 साल के लड़के से प्यार, फिर एक दिन होटल में हुआ ये ?
  • बोल्ड और स्मार्ट दिखने के चक्कर में लड़कियां कर रही स्मोकिंग
  • आपके पास है 500 का पुराना नोट! इस साइट पर बिक रहा 1 करोड़ रुपये में
  • शादी से पहले मुलाकात में जरुर पूछें ये सवाल
  • post-6 big-plus
    arrow Read More
    ट्रेन में हुई दोस्ती, फिर लॉ स्टूडेन्ट के साथ कर दिया ये गंदा काम

    2017-06-24 06:32:59

    भोपाल। गांधी नगर इलाके में रहने वाली लॉ छात्रा ने बनारस के युवक पर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस के मुताबिक, जेल रोड गांधी नगर की रहने वाली 23 वर्षीय युवती लॉ की स्टूडेन्ट है। युवती यूपी की रहने वाली है। युवती ने बताया, फरवरी 2013 में वह कामायनी एक्सप्रेस से गृहग्राम उत्तरप्रदेश जा रही थी।


    ट्रेन के जनरल बोगी में यात्रा के दौरान उसकी दोस्ती बनारस निवासी अनुज राय से हो गई। इसके बाद दोनों की फोन पर बात होने लगी। करीब डेढ़ माह बाद अनुज ने छात्रा से फोन पर शादी को राजी कर लिया।

    अक्टूबर में वह भोपाल आया। छात्रा के कहने पर संगम तिराहा के पास स्थित होटल रॉयल पैलेस में ठहरा, जहां उसने छात्रा के साथ दुष्कर्म किया। अक्टूबर 2016 में आखरी बार भोपाल आया और शादी का झांसा देकर उससे ज्यादती की।

    इसके बाद भी दोनों के बीच बातचीत चलती रही। एक दिन जब युवती ने उससे शादी करने की बात कही तो वह मुकर गया। इसी बीच छात्रा को पता चला कि अनुज किसी दूसरी युवती से शादी कर रहा है। वह शादी रुकवाने पहुंची भी, लेकिन कानूनी उलझनों की वजह से वह ऐसा नहीं करने में सफल नहीं हो सकी। ऐसे में छात्रा ने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।


    अनुज गाजियाबाद में रहता है। उसका भाई बीएएसएफ में पदस्थ है। इसके बाद वह कई बार यहां आकर छात्रा से मिलता रहा। छात्रा ने पुलिस को बताया कि फरवरी 2013 में ट्रेन में यात्रा के दौरान उसकी दोस्ती युवक से हुई थी। इसके बाद आरोपी भोपाल आता रहा। वह यहां होटल में उसे बुला कर कई बार संबंध बनाए।

    post-6 big-plus
    arrow Read More
    इस महिला ने प्रेमी से मिलने के लिए पार की शर्म की सारी हदें, रात को करती थी ऐसा काम

    2017-06-22 11:11:19

    कहते है कि प्यार अंधा होता  है। कर्इ बार इसी प्यार को पाने के लिए प्रेमी प्रेमिका ऐसा काम कर बैठते है कि किसी की जान तक लेने को मजबूर हो जाते है। ऐसा ही एक मामला फिरोजपुर में देखने को मिला जहां शादी के बाद पत्नी ने अपने प्रेमी से मिलने के लिए परिवार को मारने तक का प्लान बना डाला। 

    खाने में मिला देती थी नशीली दवा
    नगर थाना नं. 2 की पुलिस ने पति गौरव के बयानों के आधार पर उसकी पत्नी सुनैना, प्रेमी सचिन शर्मा वासी गली नं. 17-18 नई आबादी अबोहर व सीमा पत्नी सुधीर चुघ के खिलाफ यह मामला दर्ज किया था कि उसकी पत्नी सुनैना एक साजिश के तहत उनके परिवार को खाने में नशीली दवा मिला कर सुला देती है। जब घर वाले नशे की हालत में सो जाते हैं तो उसका प्रेमी उसे घर पर मिलने के लिए आ जाता है। सीमा की बदौलत वह घर आता था। 

    सुनैना का अदालत में किया पेश
    पुलिस ने इस मामले में तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर प्रेमी सचिन को काबू कर जेल भेजा तथा अदालत में चालान पेश किया, परंतु उच्चाधिकारियों की जांच के बाद सीमा मुकद्दमे में निर्दोष साबित हुई तो उसे मामले से निकाल दिया गया। इस मामले में सुनैना का अदालत में चालान पेश किया गया।

  • ट्रेन में हुई दोस्ती, फिर लॉ स्टूडेन्ट के साथ कर दिया ये गंदा काम
  • इस महिला ने प्रेमी से मिलने के लिए पार की शर्म की सारी हदें, रात को करती थी ऐसा काम
  • स्कूल प्राचार्य ने छात्राओं से की अश्लील हरकत, रीवा का रहने वाला है प्राचार्य
  • विदेशी लड़की ने मचाया ऐसा उत्पात की पुलिस को बांधने पड़े हाथ-पैर, ये वजह आई सामने
  • BF के साथ होटल रूम में थी Wife, अचानक पहुंचा पति-म‍िला करारा जवाब
  • एक दिन उसके बेटे को इसका पता चल गया फिर उसने जो किया वो आपका दिल दहला देगा..
  • दहेज नहीं मिला तो प्राइवेट पार्ट पर डंडे से हमला कर दिया, 3 आॅपरेशन के बाद भी रक्तस्त्राव
  • FB पर लड़के ने डाली अपनी यह फोटो, फिर पुलिस ने किया अहम खुलासा
  • 40 साल की मामी ने की 18 के भांजे से शादी, बच्चों ने की नए पापा की पिटाई
  • इस लड़की को मंहगा पड़ गया टफ मडर चैलेंज
  • SPORTS

    post-1 big-plus
    arrow Read More
    चैंपियंस ट्राफी में फ्लॉप रहे श्रीलंका के कोच ने दिया इस्तीफा

    2017-06-24 07:07:43

    कोलंबो:  आईसीसी चैंपियंस ट्राफी में फ्लॉप साबित हुई श्रीलंका के कोच ग्राहम फोर्ड ने क्रिकेट टीम के साथ अपने दूसरे कार्यकाल को 15 महीने के बाद ही छोड़ते हुए पद से शनिवार को इस्तीफा दे दिया।  

    दक्षिण अफ्रीकी फोर्ड ने वर्ष 2012 से 2014 के बीच श्रीलंका के लिए कोचिंग की थी और गत वर्ष फरवरी में दूसरी बार कोच पद पर टीम के साथ जुड़े थे। उनका कार्यकाल 2019 विश्वकप तक के लिए था लेकिन उन्होंने 15 महीने के बाद ही पद छोड़ दिया है।  56 वर्षीय फोर्ड के मार्गदर्शन में श्रीलंका ने ट्ंवटी 20 और टैस्ट में आस्ट्रेलिया पर यादगार जीत दर्ज की थी लेकिन इस वर्ष टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा और पहली बार उसे बंगलादेश से तथा दक्षिण अफ्रीका से सीरीज में व्हाइटवॉश झेलनी पड़ी। श्रीलंका चैंपियंस ट्राफी के सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच सकी थी।  

    श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष थिलांगा सुमाथिपाला ने कहा कि हम फोर्ड को उनके श्रीलंका क्रिकेट के लिए योगदान के लिए धन्यवाद करना चाहते हैं। हमें उन्हें जाते देखने का दुख है लेकिन यह निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया है। फोर्ड ने अपना इस्तीफा श्रीलंका के जिम्बाब्वे दौरे से पहले दिया है जहां टीम को 5 वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। 

    post-1 big-plus
    arrow Read More
    मैच के बारिश में धुलते ही भारतीय टीम के नाम दर्ज हुआ अनोखा रिकॉर्ड

    2017-06-24 07:07:07

    नई दिल्ली: विंडीज के खिलाफ चल रही 5 वनडे मैचों की सीरीज का पहला मैच भले ही बारिश की भेंट चड़ गया हो, लेकिन बावजूद इसके भारतीय टीम के नाम अनोखा रिकॉर्ड दर्ज हो गया। भारतीय टीम यह 40वां वनडे मैच था, जिसका परिणाम नहीं निकला। इससे पहले तक वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा बेनतीजा मुकाबले न्यूजीलैंड के नाम दर्ज थे। 

    शुक्रवार को पोर्ट ऑफ स्पेन में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 39.2 ओवर में 199/3 रन बना लिए थे, लेकिन इसके बाद बारिश ने सारा खेल बिगाड़ दिया। मैच दोबारा शुरू नहीं हो सका, लेकिन बेनतीजा रहे मैच में भी भारतीय टीम ने रिकॉर्ड बना डाला।

    वो 5 टीमें जिनके मैचों का नहीं निकला परिणाम 
    भारत- 40 मैच रहे बेनतीजा
    न्यूजीलैंड- 39 मैच रहे बेनतीजा
    श्रीलंका- 36 मैच रहे बेनतीजा
    ऑस्ट्रेलिया- 34 मैच रहे बेनतीजा
    वेस्टइंडीज- 26 मैच रहे बेनतीजा

    post-1 big-plus
    arrow Read More
    कोहली-कुंबले विवाद: गुस्साए फैंस बोले- विराट को हटाओ धोनी को वापस लाओ

    2017-06-23 10:01:40

    नई दिल्ली :अनिल कुंबले के टीम इंडिया के कोच पद से इस्तीफा देने के बाद से ही क्रिकेट जगत में हलचल मची हुई है. कुंबले ने अपने इस्तीफे के कारण में बताया कि टीम के कप्तान विराट कोहली को उनकी कार्यशैली को लेकर परेशानी थी. कई एक्सपर्ट इसे भारतीय क्रिकेट के लिए घातक बता रहे हैं. कुंबले के इस्तीफे बाद विराट कोहली को ट्विटर पर लोगों ने आड़े हाथों लिए है. किसी ने विराट को घमंडी कहा तो किसी ने धोनी को वापस कप्तानी सौंपने की बात कही. टीम इंडिया के एक फैन ने तो यहां तक लिख दिया कि भारतीय टीम अनिल कुंबले जैसे महान खिलाड़ी की कोचिंग के काबिल ही नहीं है.

    एक यूजर ने ट्वीट करके कहा कि ” धोनी विराट कोहली से 10 गुणा ज्यादा टैलेंटेड कप्तान थे, मुझे ये कहने में जरा भी संकोच नहीं है, याद रखो कोहली, अनिल कुंबले ऑल टाइम लिजेंड है. ”
    एक अन्य यूजर ने लिखा कि “जब तक विराट कप्तान है टीम इंडिया कोई ट्रॉफी नहीं जीत सकती, विराट को कप्तानी से हटाना चाहिए, विराट के घमंड के चलते अनिल कुंबले ने कोच का पद छोड़ा है. ”

    ट्विटर पर विराट केवल फैन्स के ही निशाने पर नहीं हैं, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी कुंबले के जाने पर ट्वीट किया “भारत कुंबले के रूप में एक महान इंसान खो रहा है, उम्मीद की थी कि वह इस भूमिका में रहें.”

    पूर्व भारतीय कप्तान और स्पिनर बिशन सिंह बेदी ने भी इसे लेकर निराशा जताई और कहा, ‘इस तरह के माहौल में कोई भी सम्मानीय व्यक्ति काम नहीं कर सकता था.’ उन्होंने कहा कि कुंबले का जाना भारतीय क्रिकेट का नुकसान है.’

    भारत के पूर्व ओपनर कृष्णामचारी श्रीकांत ने कहा, ‘ये सुनकर दुख हुआ कि आपने इस्तीफा दे दिया. भविष्य के लिए आपको और आपके परिवार को शुभकामनाएं.’

    गौरतलब है कि अनिल कुंबले को जून, 2016 में ही कोच पद की जिम्मेदारी दी गई थी. पिछले दिन ही उनका अनुबंध समाप्त हुआ था, लेकिन बोर्ड ने उन्हें वेस्टइंडीज दौरे तक बने रहने को कहा था. हालांकि कुंबले ने विंडीज नहीं जाने का फैसला करते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया. अनिल कुंबले ने ट्वीट करके इसका कारण बताया है. उन्होंने लिखा है कि बीसीसीआई ने उनको बताया कि टीम के कप्तान को उनकी कार्यशैली को लेकर परेशानी है. बीसीसीआई ने वेस्टइंडीज श्रृंखला के लिए अपने बाकी कोचिंग स्टाफ को बरकरार रखा है, एमवी श्रीधर टीम के प्रबंधन की कर रहें हैं. भारत वेस्टइंडीज में पांच वनडे और एक ट्वेंटी20 मैच खेलेगा.

    ENTERTAINMENT, BOLLYWOOD & GOSSIP